पतंजलि दिव्य मेधा वटी के फायदे एवं नुकसान | Patanjali divya medha vati k Fayde or Nuksan

पतंजलि दिव्या मेधा वटी एक आयुर्वेदिक अति उत्तम दवाई है इसका उपयोग विभिन्न प्रकार की बीमारियों के इलाज के लिए किया जाता है क्योंकि यह एक आयुर्वेदिक दवाई है इसके दुष्प्रभाव भी बहुत कम है बिल्कुल ना के बराबर इस दवाई को कई लोग स्मरण शक्ति को बढ़ाने, दिमाग को मजबूत करने, नींद से जुड़ी समस्याओं से राहत पाने और विभिन्न प्रकार की अन्य समस्याओं के लिए करते हैं।

हम इस आर्टिकल में पतंजलि दिव्य मेधा वटी के बारे में जानकारी देंगे जैसे कि पतंजलि दिव्या मेधा वटी क्या है, पतंजलि दिव्य मेधा वटी के फायदे एवं नुकसान इत्यादि (patanjali divya medha vati k Fayde or Nuksan)

दिव्या मेधा वटी क्या है – What is  Divya medha vati in Hindi

images 40

दिव्या मेधा वटी एक आयुर्वेदिक दवा है जो कई जड़ी बूटियों से को मिलाकर बनाई जाती है। दिव्या मेधा वटी पतंजलि आयुर्वेद बनाती है। यह दवा याददाश्त, बुद्धि और दिमाग की शक्ति को बढ़ाने में मदद करती है। यह याददाश्त में होने वाली कमी के लिए एक बहुत ही फायदेमंद हर्बल उपाय है। इसका उपयोग मस्तिष्क टॉनिक के रूप में भी किया जाता है। दिव्य मेधा वटी याददाश्त की कमजोरी, सिरदर्द, नींद, चिड़चिड़ाहट स्वभाव, मिर्गी आदि जैसे मस्तिष्क की परेशानियों का इलाज करती है और दिमाग को शांत रखती है।

दिव्य मेधा वटी के फ़ायदे – Divya medha vati k Fayde

  • मानसिक रोगों में लाभकारी
  • नींद से जुड़ी समस्याओं में
  • स्मरण शक्ति बढ़ती हैं
  • सर दर्द में लाभकारी
  • घबराहट की समस्या से छुटकारा दिलाती हैं
  • आवाज को साफ करने का काम करती हैं
  • मिर्गी रोग में लाभकारी
  • पाचन शक्ति बढ़ती है

मानसिक रोगों में लाभकारी 

मेधा वटी में ऐसी कई जड़ी बूटियां हैं जो दिमाग को शांत और तेज कर सर दर्द, तनाव, अवसाद जैसी समस्याओं से निजात दिलाती हैं।

अनिद्रा में लाभकारी 

अनिद्रा को अंग्रेजी में इंसोमिया भी कहते हैं, जो लोग देर रात तक काम में लगे रहते हैं ऐसे लोगो को अनिद्रा की समस्या बन जाती है जिसके लिए हम एलोपैथी दवाओ का सहारा लेते हैं जिसके आगे चलकर दुष्प्रभाव देखने को मिलते हैं। यह दावा नींद को प्रेरित करती हैं और अनिद्रा से छुटकारा दिलाती हैं।

स्मरण शक्ति बढ़ाने में 

यह दावा brain tonic के रुप में भी ली जाती हैं। यदि आपकी स्मरण शक्ति कमजोर हैं तो आप इसका सेवन करे।

सर दर्द में राहत 

अगर आप सर दर्द की समस्या से परेशान रहते हैं तो मेधा वटी के नियमित सेवन से सर्द दर्द की समस्या में जल्द लाभ मिलता है।

घबराहट से छुटकारा 

घबराहट की वजह से दिल की बीमारी और बीपी अनियंत्रित होने की समस्या भी बन सकती हैं। मेधा वटी के सेवन से मन शांत होता है और घबराहट नहीं होती।

आवाज को साफ करने में 

यह हमारी गले की गन्दगी को साफ कर आवाज को सुंदर बनती हैं।

मिर्गी रोग में 

मिर्गी दिमाग से जुड़ी हुई एक घातक बीमारी हैं लेकिन दिव्य मेधा के सेवन से यह पूर्ण रूप से ठीक हो जाती हैं।

दिव्य मेधा वटी के नुकसान – Divya medha vati k Nuksan

यह एक आयुर्वेदिक औषधि है और अभी तक इसके साइड इफेक्ट्स के बारे में कोई डाटा उपलब्ध नहीं है। लेकिन इसके अधिक इस्तेमाल से अधिक नींद की समस्या हो सकती हैं।

  • मेधा वटी का खुराक हमेशा विशेषज्ञ की सलाह के बाद ही शुरू करें। 
  • बच्चों को इसकी कम मात्रा देनी चाहिए। दिन में एक गोली ही दें। 
  • गर्भवती महिलाओं को इसके सेवन से बचना चाहिए, अगर जरूरत हो तभी इसका इस्तेमाल करें। 
  • अगर आपको इसके किसी घटक से एलर्जी है तो इसका सेवन है बंद कर देना चाहिए। 

दिव्य मेधा वटी के मुख्य घटक – Ingredients of Divya medha vati in Hindi

  • ब्राह्मी
  • अश्वगंधा
  • शंखपुष्पी
  • वाचा
  • उस्तुखुददूस 
  • ज्योतिष्मती
  • जटामांसी
  • गोजिह्व
  • सौंफ
  • जहर मोहरा
  • प्रवल पिष्टी
  • मुक्त पिष्टी

दिव्य मेधा वटी की सावधानियां – Precautions of Divya medha vati in Hindi 

दवा का उपयोग करने से पहले, अपने चिकित्सक को अपनी वर्तमान बीमारियों, शारीरिक बीमारियों और उन सभी दवाओं के बारे में बताएं जो आप ले रहे हैं। चिकित्सक के निर्देशानुसार दवा लें और सूचित करें कि आपकी शारीरिक स्थिति बिगड़ रही है या सुधार हो रहा है।

व्यक्तियों और शारीरिक बीमारियों के मामले में सतर्क रहना महत्वपूर्ण है।

  • बच्चों को इसकी थोड़ी मात्रा में ही देना चाहिए। दिन में केवल एक गोली दें।
  • गर्भवती महिलाओं को इसके सेवन से बचना चाहिए, जरूरत पड़ने पर ही इसका सेवन करें।
  • अगर आपको इसके किसी भी अवयव से एलर्जी है, तो आपको इसका इस्तेमाल बंद कर देना चाहिए।

दिव्य मेधा वटी का मूल्य – Price of Divya medha vati in Hindi

दिव्या मेधा वटी 120 टैबलेट के एक पैक की कीमत 210 रुपये है।

दिव्य मेधा वटी किसे नहीं खाना चाहिए – Who should not use Divya medha vati in Hindi  

वैसे तो मेधा वती बेहद गुणकारी और फायदेमंद औषधि हैं लेकिन किन्ही परिस्थितयों मैं इसका सेवन आपके लिए चिंताजनक हो सकता हैं तो आइये जानते हैं की मेधा वटी सेवन किन लोगो को और कब नहीं करना चाहिए। 

  • गर्भवती महिलाओ को मेधा वटी का सेवन नहीं करना चाहिए क्योकि गर्भवस्था के दौरान कौन सी दवाई बच्चे और माँ पर क्या प्रभाव डालती यह अभी तक पूर्ण रूप से स्पष्ट नहीं हैं यदि गर्भवती महिलाये मेधा वटी का सेवन करती भी हैं तो चिकित्सक की सलाह से करे। 
  • मेधा वटी का सेवन हाई ब्लड प्रेसर एवं डाइबिटीज़ के मरीजों को बिना डॉक्टर के सलाह के नहीं करना चाहिए यह आपके शरीर मैं प्रवेश कर क्या प्रभाव डालती हैं यह सिर्फ डॉक्टर ही आपको बता पाएगा। 
  • ऐसी महिलाएं जो की हाल ही मैं माँ बनी है तथा बच्चे को स्तनपान कराती हैं उन्हें मेधा वटी का प्रयोग नहीं करना चाहिए हलाकि अभी तक इस बात पर कोई शोध या पुष्टि उपलब्ध नहीं हैं लेकिन फिर भी यदि स्तनपान करने वाली महिलाये इसका सेवन करना चाहती हैं तो चिकित्सक की सलाह अवश्य ले।
  • शराब पिने के बाद मेधा वटी का सेवन नहीं करना चाहिए शराब पिने के बाद इसका सेवन आपके लिए घातक सिद्ध हो सकता हैं। 
  • मेधा वती का सेवन खाली पेट नहीं करना चाहिए डॉक्टरों द्वारा दिए गए सुझावों एवं मेधा वटी के पैकेट पर दिए गए निर्देश के अनुसार मेधा का सेवन भोजन के बाद ही करना चाहिए।  

यह भी पढ़ें:- चन्द्रप्रभा वटी के नुकसान व फायदे | Chandraprabha Vati Kya Hai

यह भी पढ़ें:- डर्मिसालिक मरहम / Dermisalic Ointment in Hindi | डर्मिसालिक Ointment की जानकारी, लाभ, फायदे

निष्कर्ष

इस आर्टिकल में हमने पतंजलि दिव्या मेधा वटी के बारे में जानकारी दिया है जैसे पतंजलि दिव्या मेधा वटी क्या है, पतंजलि दिव्य मेधा वटी के फायदे एवं नुकसान इत्यादि (patanjali divya medha vati k Fayde or Nuksan)

मैं आशा करता हूं कि आपको हमारा यह आर्टिकल पसंद आया होगा अगर आपको हमारे आर्टिकल पसंद आता है या आप क्या कोई सवाल या जवाब है तो आप हमें नीचे कमेंट बॉक्स में कमेंट कर सकते हैं धन्यवाद।

पतंजलि दिव्य मेधा वटी का दाम क्या है?

बाजारों में पतंजलि दिव्य मेधा वटी आपको ₹250 में मिल जाएंगे यह पाउडर के रूप में रहता है।

पतंजलि दिव्य मेधा वटी के साइड इफेक्ट क्या है?

आमतौर पर पतंजलि दिव्य मेधा वटी का कोई भी साइड इफेक्ट नहीं है पर हां इसके सेवन से पहले आप अपने डॉक्टर से जरूर सलाह ले क्योंकि यह आपके शरीर पर निर्भर करता है कि यह आपको लेनी चाहिए या नहीं।

पतंजलि दिव्य मेधा वटी किस काम में आता है?

पतंजलि दिव्य मेधा वटी मुख्यता आपकी मानसिक स्थिति को बेहतर बनाने के लिए बनाया जाता है इसके सेवन से आप की स्मरण शक्ति बढ़ जाती है और आपका दिमाग स्वस्थ रूप से काम करता है।

References

Patanjali. (n.d.). Divya Medha Vati – Extra power. Patanjaliayurved.net. https://www.patanjaliayurved.net/product/ayurvedic-medicine/vati/divya-medha-vati-extra-power/850

Neurocognitive effect of Nootropic drug brahmi (Bacopa monnieri) in Alzheimer’s disease. (n.d.). PubMed Central (PMC). https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC5448442/

Ashwagandha in brain disorders: A review of recent developments. (n.d.). PubMed. https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/32305638/

Effects of Nardostachys jatamansi on biogenic amines and inhibitory amino acids in the rat brain. (n.d.). PubMed. https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/8202559/