Jalne par kya lagaye | जलने पर क्या लगाएं

जलने पर कुछ भी लगाने के लिए हमें सबसे पहले यह जानना होगा कि व्यक्ति किस चीज से जला है मतलब क्या वह व्यक्ति आग से जला है या फिर वह बिजली के द्वारा जला है या वह किसी एसिड या किसी केमिकल की वजह से जला है क्योंकि इन सभी परिस्थितियों में अलग-अलग चीजें उपयोग में लाई जाती हैं। 

इसके साथ साथ ही जलने पर क्या लगाना है यह इस बात पर भी निर्भर करता है कि घाव की गंभीरता क्या है अगर घाव हल्का-फुल्का है और व्यक्ति सिर्फ थोड़ा सा ही जला है तो ऐसी स्थिति में आप सामान्य क्रीम और घरेलू नुस्खे का भी उपयोग कर सकते हैं परंतु अगर व्यक्ति का भाव काफी गंभीर है तो ऐसी स्थिति में आपको सबसे पहले डॉक्टर से ट्रीटमेंट कराना चाहिए।

आज इस आर्टिकल में हमने जलने पर क्या लगाएं (Jalne par kya lagaye) के बारे में विस्तार पूर्वक जानकारी दिया है

जलने पर क्या लगाएं – Jalne par kya lagaye

mmm

हमने यहां उन सभी चीजों के बारे में जानकारी दी है जिसका उपयोग आप जलने पर कर सकते हैं आप इन्हें घरेलू नुस्खे भी बोल सकते हैं यह सभी दवाइयां असरदार और कारगर हैं।

सबसे पहले रनिंग वाटर से धोएं

अगर आपका हाथ या शरीर का कोई भी अंग किसी कारणवश जल जाता है तो सबसे पहले उसे रनिंग वाटर से साफ करें जितना हो सके उतना पानी द्वारा उस जले हुए भाग को साफ करें ऐसा करने से आपको राहत मिलेगी और आप चाहे तो बर्फ का इस्तेमाल भी कर सकते हैं। 

शहद और नारियल तेल का करें प्रयोग

जले हुए स्थान पर शहद और नारियल का तेल लगाने से राहत मिलती है ठंडक मिलती है मरीज को बड़ा ही आनंद आता है परंतु ध्यान रखें कि शहद और नारियल का तेल मिलाकर हल्के हल्के हाथों से घाव पर लगाएं इसे रगड़े बिल्कुल नहीं अगर आप इसे रगड़ते हैं तो इससे मरीज को काफी तकलीफ होगी और घाव भी बढ़ सकता है।

हल्दी का लेप और पानी

हल्दी को जले हुए स्थान पर लगाकर सूखने दें। जब यह सूख जाए, तो इसे धोकर दोबारा हल्दी लगाएं। ऐसा बार-बार करने से दर्द में आराम मिलता है। आप जले हुए हिस्से पर तुरंत हल्दी का पानी लगा सकते हैं। इससे आपकी जलन कम होती है और आपका दर्द भी कम होता है। ऐसे में जलने पर हल्दी का  पानी भी काफी ज्यादा असरदार होता है।

केला

केले का गूदा जले हुए भाग पर लगाने से जलन मिटती है व फफोले नहीं पड़ते। दर्द में भी बड़ा आराम मिलता है और केला आसानी से कहीं पर भी मिल जाता है केले में कुछ ऐसी गुणकारी प्रॉपर्टी होती हैं जिसकी वजह से यह घाव को ठंडक देता है और दर्द को कम करता है।

टूथपेस्ट

जले हुए स्थान पर टूथपेस्ट लगाकर उसे सूखने दें इसे जले हुए भाग पर लगाने से जलन मिटती है व फफोले नहीं पड़ते।

शहद

शहद के साथ लौंग पीसकर जले हुए स्थान पर लगाने से ज़ख़्म नहीं बन पाता और ये जलन को भी मिटाता है। शहद में एंटीबॉयोटिक गुण होते हैं जो जलने पर आपको काफी फायदा पहुंचाता है। शहद का इस्तेमाल करने से घाव से बैक्टीरिया खत्म हो जाते हैं।

अंडे की सफेदी

जलन को मिटाने के लिए अंडे का स़फेद भाग लगाएं और उसे कुछ देर तक सूखने दें। दर्द दूर करने और दाग़ न पड़ने के लिए इसे कई बार लगाना पड़ सकता है।

अनार की पत्तियां

अनार की पत्तियों को पीसकर जले हुए भाग पर लगाने से जलन शांत होती है।

आलू का लेप

आलू को कूट-पीसकर उसकी लुगदी जले भाग पर लेप करने से तुरंत जलन शांत होती है। इसके अलावा जले हुए स्थान पर आलू का छिलका लगाकर रखने से भी ठंडक मिलती है याद रखें कि आलू को दो भागों में काटकर या फिर आलू को पीसकर घाव पर लगाना है वहां रगड़ना नहीं है बस हल्का हल्का हल्के हल्के हाथों से प्यार से लगाना है ऐसा करने से आपको ठंडक मिलेगी और जलन भी कम होगी।

नारियल का तेल

नारियल के तेल में चूने के पानी को मिलाकर रोगी के जले हुए भाग पर लगाने से बड़ा आराम मिलता है अगर किसी कारणवश जले हुए स्थान पर कपड़ा चिपक जाए तो भी नारियल या तिल के तेल को रुई में भिगो कर उस पर लगाने से वह छूट जाता है अगर व्यक्ति ज्यादा गंभीर रूप से जल गया है और कोई भी औषधि पास में नहीं है तो नारियल का तेल लगाने से जलन तुरंत बंद होती है और दर्द में भी राहत मिलती है इसके साथ नारियल के तेल में तुलसी के पत्तों का रस बराबर मात्रा में मिलाकर लगाने से बहुत राहत मिलती है और नारियल के तेल में अलसी का तेल मिलाकर लगाने से भी जले हुए हिस्से में बहुत राहत मिलती है।

तुलसी

तुलसी के पत्तों को पीसकर उसे नारियल के तेल में मिलाकर शरीर के जले हुए भाग पर लगाने से बहुत राहत मिलती है अगर घाव आग से जल जाने की वजह से है तो तुलसी का रस नारियल के तेल में मिलाकर लगाने से जलन छाले और जख्म बड़ी ही जल्दी ठीक हो जाते हैं और दर्द से भी राहत मिलती है ढाई सौ मिलीग्राम तुलसी के पत्तों का रस और ढाई सौ मिलीग्राम नारियल का तेल एक साथ मिलाकर धीमी आंच पर थोड़ी देर के लिए गर्म करें और उसे बड़े ही ध्यान के साथ हल्के हाथों से घाव पर लगाएं रगड़े नहीं नहीं तो जलन बढ़ सकती है ऐसा करने से जलन दूर होगी छाले नहीं पड़ेगी और घाव भी बहुत जल्दी ठीक हो जाएगा।

एलोवेरा

एलोवेरा बड़ा ही गुणकारी और चमत्कारी पौधा है अगर आप जलने पर एलोवेरा का उपयोग करें तो आपको बहुत लाभ होगा जब भी कोई व्यक्ति जल जाता है तब उस व्यक्ति के घाव पर एलोवेरा के अंदरूनी भाग को निकाल कर लगाना चाहिए आप चाहे तो एलोवेरा के अंदरूनी भाग को शहद के साथ मिलाकर भी लगा सकते हैं ऐसा करने से घाव जल्दी भरता है और जलन भी कम होती है इसके साथ ही घाव पर एलोवेरा लगाने से छाले नहीं पड़ते।

धनिया

यदि शरीर का कोई अंग आग द्वारा जल जाता है तो उस समय आप को बड़े ही धैर्य से काम लेना है जल्दबाजी नहीं करनी सर्वप्रथम उसको पानी से बार-बार धोएं लेकिन याद रखें उस अंग को रगड़ना नहीं है नहीं तो जनरल बढ़ सकती है कुछ देर बाद एक पतले कपड़े से उस अंग को बड़ी सावधानी से सुखा लें और उसके बाद थोड़ा सा धनिया नारियल के तेल में मिलाकर घाव पर लगाएं ऐसा करने से घाव बड़ी ही जल्दी ठीक होगा उसमें दर्द भी कम होगा जलन भी कम होगी और आप को बड़ी ही राहत मिलेगी।

तिल

अगर आप आग द्वारा जल गए हैं या भाप से जल गए हैं तो आपको तिल को पीसकर उसका एक मरहम तैयार कर लेना है इस लेप को घाव पर या प्रभावित क्षेत्र पर लगाने से आपको बड़ी ही राहत मिलेगी जलन कम होगी ककड़ी दर्द कम होगा, और घाव बड़ी ही जल्दी ठीक हो जाएगा।

चावल

एक मुट्ठी कच्चा चावल ले और उसमें थोड़ा सा तिल मिला लें इसके बाद इन दोनों को एक साथ पीस ले अब इस लेप को प्रभावित क्षेत्र पर हल्के हाथों से लगाएं ऐसा करने से जलन और दर्द दूर हो जाता है ध्यान रखें कि जब आप लेप लगा रहे हो पर बड़े ही ध्यान से और हल्के हाथों से लैब लगाएं अगर आप घाव को रगड़ देते हैं तो इससे घाव बढ़ जाएगा और आपको बहुत ज्यादा महसूस होगी इसलिए घाव पर लेख को लगाते समय ना रगड़े।

अलसी

अगर आपको जले पर कुछ लगाने के लिए चाहिए तो आप अलसी का उपयोग भी कर सकते हैं यह बहुत असरदार और कारगर है थोड़ी सी अलसी को पीसकर नारियल के तेल में मिलाकर घाव पर लगाएं इससे दर्द कम होगा जलन कम होगी और घाव जल्दी से जल्दी भर जाएगा

आम

आम खाने में तो बड़ा ही स्वादिष्ट और मजेदार होता है परंतु क्या आप जानते हैं कि अगर किसी कारणवश आप जल जाए तो आप आम को भी घाव पर लगा सकते हैं ऐसा करने से आप को बड़ी राहत मिलेगी इसके साथ-साथ कि आप चाहे तो आम के पत्तों को पीसकर उनका एक लेप बनाकर भी उसे घाव लगा सकते हैं और चाहे तो आम की गुठली को पीसकर उसमें भी आप कहो पर लगा सकते हैं ऐसा करने से आप को बड़ी राहत मिलेगी दर्द भी कम होगा।

चाय 

जी हां आपने सही सुना आप चाय का उपयोग भी प्रभावित क्षेत्र पर कर सकते हैं आपने अक्सर सुना होगा कि चाय द्वारा कई लोग जल जाते हैं परंतु उस जले हुए घाव पर आप चाय की पत्ती को लगाएं या फिर चाय की पत्ती को एक भीगे हुए कपड़े में बांधकर आप घाव पर हल्के हाथों से लगाए तो भी आप को बड़ी ही राहत मिलती है दर्द कम होता है और जलन भी कम होती है।

मेहंदी

हां, मैं उस मेहंदी की बात कर रहा हूं जिसका उपयोग अक्सर हाथों पर किया जाता है हाथों को सजाने के लिए लेकिन अगर आप किसी कारणवश जल जाए तो आप मेहंदी का प्रयोग कर सकते हैं क्योंकि मेहंदी में कुछ ऐसे तत्व होते हैं जिसकी वजह से यह ठंडक देने का काम करती है और जब कोई व्यक्ति जल जाता है तब उसे बड़ी ही जलन होती है ऐसी स्थिति में मेहंदी लगाने से उस व्यक्ति के घाव को बड़ी ठंडक मिलती है यह दर्द कम होता है और बहुत जल्दी आराम हो जाता है।

यह भी पढ़ें: गोमूत्र के फायदे और नुकसान | Gomutra ke fayde or nuksan

निष्कर्ष

मैं आशा करता हूं कि आपको हमारा यह आर्टिकल जरूर पसंद आया होगा इस आर्टिकल में हमने जलने पर क्या लगाएं (Jalne par kya lagaye) के बारे में बताया है जिनका उपयोग आप जलने पर कर सकते हैं

अगर आप किसी केमिकल या किसी विद्युत के उपकरण द्वारा जले हैं तो आपको तुरंत डॉक्टर को दिखाना चाहिए ऐसे में घरेलू इलाज हानिकारक हो सकता है परंतु हल्की-फुल्की या फिर ऐसे ही जलती है ऐसे में आप घरेलू नुस्खे आ सकते हैं।