शीघ्रपतन के 10 आयुर्वेदिक उपचार जो आपको जरूर जानने चाहिए

शीघ्रपतन (premature Ejaculation) तब होता है जब एक पुरुष यौन क्रिया के दौरान अपनी इच्छा से पहले स्खलन करता है। शीघ्रपतन पुरुषो में एक गंभीर और प्रचलित यौन समस्या है।

Premature Ejaculation चिंता का विषय हो भी सकता है और नहीं भी। ये समय के साथ बढ़ कर सेक्स को क्षणिक और रिश्तों को नुकसान पहुंचा सकती है।

आपके स्वास्थ्य की देखभाल में पेशेवर सेक्स विशेषज्ञ आपकी सहायता कर सकता है, यदि शीघ्रपतन अक्सर होता है और नियमित संबंध स्थापित करने मे जटिलताओं का कारण बनता है तो आप, शीघ्रपतन के लिए आयुर्वेदिक उपचार शीघ्रपतन के अन्य उपचार के विकल्पों को अपना सकते हैं।

इस आर्टिकल में हम शीघ्रपतन के आयुर्वेदिक उपचार के बारे में बात करेंगे और शीघ्रपतन के आयुर्वेदिक उपचार के बारे में सभी जानकारी प्रदान करेंगे (Ayurvedic treatment for Premature ejaculation in Hindi)

व्यक्ति को इस स्थिति का इलाज क्यों करना चाहिए? – Why should a person treat this condition in hindi?

Premature Ejaculation

यदि आप अधिकांश यौन संबंधों के दौरान अपनी इच्छा से अधिक शीघ्र स्खलन करते हैं, तो डॉक्टर से परामर्श लें। पुरुष अक्सर यौन स्वास्थ्य के मुद्दों में बात करने से शर्माते है, लेकिन एक चिकित्सक इस तरह की भावनाएं साझा करने के लिए सही व्यक्ति है। 

शीघ्रपतन (Premature Ejaculation) एक सामान्य बीमारी है, और आपका डॉक्टर कोई भी उपयुक्त शीघ्रपतन की दवा (Premature Ejaculation medicine) लिख ​​​​सकता है, जो आपके लिए काफ़ी फ़ायदेमन्द हो सकती है। 

डॉक्टर के साथ चर्चा करने से शीघ्रपतन के संबंध में पुरुषों की कुछ चिंताओं को कम किया जा सकता है। उदाहरण के लिए, यह सुनना कि कभी-कभार शीघ्रपतन सामान्य है और यौन गतिविधि की शुरुआत से लेकर स्खलन तक का औसत समय लगभग पांच मिनट है, काफी सुकूनदेह है । 

यह स्पष्ट नहीं है कि शीघ्रपतन (premature ejaculatin) का क्या कारण है। जबकि पहले यह माना जाता था कि शीघ्रपतन पूरी तरह से मनोवैज्ञानिक कारण से होता है, डॉक्टरो ने वर्तमान में पता लगाया कि यह मनोवैज्ञानिक और जैविक घटकों के एक जटिल संयोजन के कारण होता है।

PE के लिए दवा का सेवन बिना पर्चे के कब किया जा सकता है? – When medicine for PE can be consumed without prescription in Hindi?

जब आपको लगता है कि आप PE (शीघ्रपतन) से प्रभावीत है और यह आपके यौन जीवन में हस्तक्षेप कर रहा है, तो इससे पहले कि यह आपके रिश्ते पर गंभीर प्रभाव डाले, इसका जल्द से जल्द इलाज तलाशे।

यदि डॉक्टर आपको मोटापे, तनाव, या किसी मानसिक या मनोवैज्ञानिक विकार के कारण बताता है, तो डॉक्टर से परामर्श करना सबसे अच्छा है। डॉक्टर शीघ्रपतन का उपचार सफलतापूर्वक करने में सक्षम होंगे। इसके अलावा, आप सही Premature Ejaculation Medicine और उचित खुराक भी ले सकते हैं।

हालांकि, यदि आप मानते हैं कि आपकी स्थिति कम गंभीर है या शुरुआती है, तो आप बिना डॉक्टर के पर्चे के पीई के लिए दवा ले सकते हैं। लेकिन यह सुनिश्चित करें कि जिस स्रोत से आप दवा खरीदने की बात कर रहे हैं वह विश्वसनीय है। उदाहरण के लिए, आप Ohman.in से PE (शीघ्रपतन) के लिए दवाइयां खरीद सकते हैं। Ohman पर दवाएं FDA-approved हैं और बिना किसी प्रिस्क्रिप्शन के पूरी तरह से सुरक्षित हैं।

आपको बिना प्रिस्क्रिप्शन के दवा का सेवन क्यों नहीं करना चाहिए – Why You Should Not Consume Medicine Without Prescriptions in Hindi

आपको बिना किसी प्रिस्क्रिप्शन के दवा का सेवन नहीं करना चाहिए क्योंकि आप गलत दवा का सेवन कर सकते हैं। दवा आपको गंभीर रूप से नुकसान पहुंचा सकती है। इसके अलावा, गलत खुराक या दवाओं की गलत संरचना का सेवन आपके शरीर के सामान्य कामकाज में हस्तक्षेप कर सकता है।

PE (शीघ्रपतन) की दवाएं प्रतिदिन या सेक्स से ठीक पहले ली जा सकती हैं। आपके डॉक्टर आपको आप की शारीरिक गतिविध के आधार पर खुराक लेने की सिफारिश करेगा। यह स्पष्ट नहीं है कि दवा लेने का उचित समय क्या है। ज्यादातर डॉक्टर सेक्स करने से 2 से 6 घंटे पहले इंतजार करने की सलाह देते हैं।

सेरोटोनिन रीपटेक इनहिबिटर (SSRI) मस्तिष्क में सेरोटोनिन के स्तर को बढ़ाने का कार्य करता हैं। स्खलन नियंत्रक सेरोटोनिन पर बहुत अधिक निर्भर करते हैं। जब आप एक SSRI का सेवन करते हैं, तो यह रीअपटेक (5-HT रिसेप्टर्स) को ब्लॉक कर देता है, जिससे स्खलन में देरी होती है।

आइए शीघ्रपतन के लिए कुछ आयुर्वेदिक दवाओं के बारे में बात करते हैं।

शीघ्रपतन का आयुर्वेदिक उपचार – Ayurvedic Treatment for Premature Ejaculation in Hindi

शीघ्रपतन (premature ejaculation) एक सेक्स समस्या हैं और इसके उपचार के लिए सिल्डेनाफिल (Sildenafil) जैसी एलोपैथिक (allopathic) दवाओं की तुलना में प्राकृतिक जड़ी-बूटियां बेहतर विकल्प हो सकती हैं। उनके अल्पकालिक और दीर्घकालिक दोनों फायदे हैं।

हालांकि घरेलू उपचारों को काम करने में थोड़ा अधिक समय लग सकता है, लेकिन इनमें कुछ कमियां हैं। यद्यपि, सटीक निदान के लिए आपको हमेशा आयुर्वेदिक चिकित्सक से संपर्क करना चाहिए।

जब कैप्सूल संस्करण में दिन में दो बार गुनगुने पानी के साथ सेवन किया जाता है, तो कई आयुर्वेदिक दवाएं शीघ्रपतन को ठीक कर सकती हैं।

यहां कुछ शीघ्रपतन के लिए आयुर्वेदिक उपचार (ayurvedic treatment for premature ejaculation in Hindi) दिए गए हैं

  • जायफल (Nutmeg): दूध में जायफल पाउडर मिलाने से शीघ्रपतन को रोकने में मदद मिल सकती है।
  • आयुर्वेदिक प्रदर्शन बूस्टर (Ayurvedic Performance Boosters): इन सेक्स पावर गोलियों में प्राकृतिक घटकों का एक संयोजन होता है जो पुरुषों के यौन प्रदर्शन को बेहतर बनाने में मदद करता है।
  • आंवला (Gooseberry): आंवले के रस में शहद मिलाकर पीने से आपके शुक्राणुओं की गुणवत्ता बढ़ेगी
  • शतावरी (Shatavari): दूध के साथ शतावरी खाने से टेस्टोस्टेरोन का स्तर बढ़ सकता है और कामेच्छा भी बढ़ती है।
  • आयुर्वेदिक जड़ी-बूटियाँ (Ayurvedic Herbs): आयुर्वेद की जड़ी-बूटियाँ, जैसे अश्वगंधा और शिलाजीत, यौन क्रिया में मदद कर सकती हैं। आयुर्वेदिक जड़ी बूटियों अश्वगंधा, बाला और विदारी के बराबर भागों को मिलाएं। इस मिश्रण का एक चम्मच लें। इसे उबलते हुए बकरी के दूध में मिला लें। आयुर्वेद में, PE  के लिए एक चिकित्सा उपचार संभव  है। जतिफला, स्पीमन गोलियां, शतावरी, सहजन, और लहसुन अधिक महत्वपूर्ण पौधे हैं।
  • आयुर्वेदिक मालिश (Ayurvedic massage): शीघ्रपतन (premature ejaculation) के लिए आयुर्वेदिक मालिश के लिए एक अनूठा leaf package इस आयुर्वेदिक चिकित्सा के साथ प्रभावी ढंग से इलाज कर सकता है। इस तकनीक का नाम इलाकिझी है।
  • केसर बादाम दूध (Saffron almond milk): शीघ्रपतन के लिए एक आयुर्वेदिक इलाज केसर और बादाम के स्वाद वाला दूध पीना है। 10 बादाम रात भर भिगो दें और अगली सुबह गर्म दूध में मिला लें। केसर, इलायची और अदरक को आप कम मात्रा में डाल सकते हैं।
  • आहार परिवर्तन (Dietary changes): शीघ्रपतन के लिए आयुर्वेदिक उपचार प्राप्त करने के लिए, आपको कुछ आहार परिवर्तन करने होंगे और इसमें कुछ खाद्य पदार्थ शामिल करने होंगे। इसके अतिरिक्त, आपको अत्यधिक कैफीन की खपत और अन्य प्रसंस्कृत खाद्य पदार्थों से बचना होगा।
  • जीवनशैली में बदलाव (Change in lifestyle): आयुर्वेद के अनुसार, शीघ्रपतन के इलाज और रोकथाम का सबसे अच्छा तरीका धूम्रपान को पूरी तरह से छोड़ देना है। आपको अपनी यौन गतिविधि को सीमित करने और अत्यधिक हस्तमैथुन को रोकने का प्रयास करना चाहिए।

निष्कर्ष

इस आर्टिकल में शीघ्रपतन के आयुर्वेदिक उपचार के बारे में बताया है और शीघ्रपतन के आयुर्वेदिक उपचार के बारे में सभी जानकारी प्रदान किया है (Ayurvedic treatment for Premature ejaculation in Hindi)

मैं आशा करता हूं कि आपको हमारा यह आर्टिकल जरूर पसंद आया होगा अगर आपके कोई सवाल या सुझाव है तो आप हमें कमेंट बॉक्स में कमेंट करके पूछ सकते हैं हम आपके सवालों का जवाब देने का प्रयास जरूर करेंगे