बवासीर में गर्म पानी पीने के फायदे और नुकसान | Bawasir mein garam paani peene ke fayde aur nuksaan

आजकल की भागदौड़ भरी जीवनशैली में व्यक्ति अपने स्वास्थ्य का ध्यान नहीं रख पाता है और  जिसके कारण व्यक्ति अच्छा और स्वस्थ भोजन नहीं खा पाता है। अच्छा और स्वस्थ भोजन ना खाने की वजह से व्यक्ति को पेट और पाचन तंत्र से जुड़ी कई प्रकार की समस्याएं होने लगती हैं। 

जिसकी वजह से व्यक्ति को कब्ज की समस्या होने लगती है और जब किसी व्यक्ति को लंबे समय तक कब्ज रहता है तब उस व्यक्ति को बवासीर हो जाता है। बवासीर एक ऐसी बीमारी है जिसमें मल त्याग करने में बहुत तेज दर्द होता है और यह दर्द असहनीय होता है। 

बवासीर की स्थिति में गरम पानी का उपयोग बहुत लाभदायक होता है इसलिए आज इस आर्टिकल में हम पढ़ेंगे की बवासीर में गर्म पानी के फायदे और नुकसान क्या है (Bawasir mein garam paani peene ke fayde aur nuksaan)

बवासीर में गरम पानी के फायदे – Benefits of drinking warm water in piles in Hindi

जब किसी व्यक्ति को मल त्याग करने में तेज दर्द होता है तब उस व्यक्ति को समझ जाना चाहिए कि उसे पाइल्स हो गया है पाइल्स आजकल के समय में एक बहुत ही कॉमन बीमारी बन चुका है जब किसी व्यक्ति को बवासीर का दर्द होता है तब व्यक्ति बहुत परेशान हो जाता है क्योंकि यह दर्द असहनीय और बहुत तेज होता है परंतु अगर कोई व्यक्ति बवासीर में गर्म पानी का उपयोग करता है तो उसे कई फायदे होते हैं जो निम्नलिखित हैं

बवासीर में राहत मिलती है

नियमित रूप से गर्म पानी पीने और समय-समय पर गरम पानी से बवासीर की सिकाई करने पर बवासीर में बहुत राहत मिलती है। जब कोई व्यक्ति बवासीर से परेशान होता है तब उसे नियमित रूप से गर्म पानी का उपयोग करना चाहिए गर्म पानी का उपयोग करने से शरीर का पाचन तंत्र ठीक होता है मेटाबॉलिज्म बढ़ता है और पाचन क्रिया तंदुरुस्त हो जाती है जिसकी वजह से व्यक्ति को कब्ज जैसी समस्या नहीं होती और व्यक्ति का पेट अच्छी तरह से साफ हो पाता है तथा मल त्याग के दौरान दर्द भी कम होता है।

बवासीर की समस्या से छुटकारा मिलता है

नियमित रूप से गर्म पानी का उपयोग करने पर और गर्म पानी से बवासीर की सिकाई करने पर बवासीर की समस्या से छुटकारा मिलता है अगर आप बवासीर से छुटकारा पाना चाहते हैं तो आप को नियमित रूप से गर्म पानी का उपयोग करना चाहिए क्योंकि गर्म पानी का उपयोग करने से पाचन तंत्र मजबूत हो जाता है जिससे आपको गैस अपच और कब्ज की समस्या नहीं होती मल भी मुलायम हो जाता है और मल त्याग करने में कोई समस्या नहीं होती अगर आप नियमित रूप से दवाइयों का सेवन करें और गर्म पानी का उपयोग करें तो आप बवासीर से छुटकारा पा सकते हैं।

मल मुलायम हो जाता है

गर्म पानी पीने का एक सबसे बेहतरीन लाभ यह है कि गर्म पानी का उपयोग करने से मल मुलायम हो जाता है अक्सर लोगों को मल त्याग करते समय यह समस्या आती है कि उनका मल कड़ा हो जाता है और मलद्वार द्वारा वह आसानी से नहीं निकल पाता और जब वह मलद्वार में फंस जाता है तब व्यक्ति जोर लगाता है जिसकी वजह से बेहद दर्द होता है। नियमित रूप से गर्म पानी का प्रयोग करने पर मल मुलायम हो जाता है और व्यक्ति को मल त्याग करने में किसी प्रकार की कोई समस्या नहीं आती।

दर्द कम हो जाता है

नियमित रूप से गर्म पानी का उपयोग करने और गर्म पानी से सिकाई करने पर पाचन तंत्र ठीक हो जाता है मल मुलायम हो जाता है मेटाबॉलिज्म बढ़ता है और व्यक्ति को मल त्याग के दौरान कम ज़ोर लगाना पड़ता है और जो व्यक्ति मल त्याग के दौरान कम ज़ोर लगाता है तो उस व्यक्ति को दर्द भी बहुत कम होता है और अगर आप नियमित रूप से बवासीर की सिकाई करें तो आपको अवश्य लाभ होगा।

शारीरिक ताप बढ़ता है

गर्म पानी का उपयोग करने तथा गर्म पानी से नियमित रूप से सिकाई करने पर शरीर का तापमान बढ़ जाता है और जब शरीर का तापमान बढ़ता है तो इससे हमारा मेटाबॉलिज्म मजबूत होता है और पाचन क्रिया भी मजबूत हो जाती है और जब किसी व्यक्ति की पाचन क्रिया मजबूत हो जाती है तो उसे बवासीर में लाभ अवश्य होता है।

रक्त वाहिकाएं चौड़ी हो जाती हैं

गर्म पानी का उपयोग करने से शरीर में रक्त वाहिकाएं चौड़ी हो जाती हैं जिसकी वजह से शरीर में ब्लड सरकुलेशन बहुत अच्छे से हो पाता है और जब शरीर में ब्लड फ्लो अच्छे से हो पाता है तो शरीर का पाचन तंत्र भी ठीक रहता है और शरीर का मेटाबॉलिज्म भी ठीक रहता है जिसकी वजह से बवासीर की समस्या ठीक हो जाती है।

मसल रिलैक्स होने में मदद करता है

जब व्यक्ति का मल कड़ा हो जाता है तो व्यक्ति को मल त्याग करने में काफी समस्या आती है जिसकी वजह से व्यक्ति की मसल भी काफी तन जाती हैं ऐसे में जब कोई व्यक्ति गर्म पानी का उपयोग करता है तो गर्म पानी से हमारे शरीर की मसल्स को रिलैक्स मिलता है और तनाव कम होता है जिसकी वजह से दर्द कम होता है।

अवसाद और चिड़चिड़ापन कम होता है

कई रिसर्च तथा शोध बताते हैं कि गर्म पानी का उपयोग ना करने पर अवसाद और चिड़चिड़ापन हो सकता है।

मेटाबॉलिज्म मजबूत होता है

नियमित रूप से गर्म पानी का उपयोग करने पर और गर्म पानी से सिकाई करने पर शरीर का मेटाबॉलिज्म मजबूत हो जाता है और पाचन तंत्र भी मजबूत हो जाता है।

मस्सों में सूजन और दर्द कम करता है

जैसा कि हम जानते हैं कि गर्म पानी का उपयोग करने पर पाचन तंत्र मजबूत होता है मेटाबॉलिज्म मजबूत होता है मन हल्का हो जाता है और काफी अन्य लाभ भी होते हैं इसके साथ साथ ही मस्सों की सूजन भी कम हो जाती है और जब मस्सों की सूजन कम हो जाती है तो दर्द भी कम हो जाता है।

एनल इंफेक्शन से बचाता है

जब गर्म पानी से मलद्वार की सिकाई की जाती है तो मलद्वार में हो रहे इंफेक्शन ठीक हो जाते हैं तथा मलद्वार के बैक्टीरिया भी मर जाते हैं जिसके द्वारा मलद्वार में होने वाले इन्फेक्शन नहीं होते।

बवासीर में गरम पानी के नुकसान – Side effect of warm water in piles in Hindi

बवासीर के दौरान गर्म पानी का उपयोग करने से बहुत सारे लाभ होते हैं और काफी हद तक बवासीर ठीक होने की संभावना भी बढ़ जाती है परंतु बवासीर में गर्म पानी उपयोग करने से कुछ दुष्प्रभाव हो सकते हैं जो निम्नलिखित हैं

  • ठंडे पानी की तुलना में गर्म पानी पीने से मुंह और होंठ जल सकते है इसके साथ साथ ही अगर गर्म पानी अधिक हुआ तो व्यक्ति की फूड पाइप तक क्षतिग्रस्त हो सकती है। 
  • अधिक मात्रा में गर्म पानी का सेवन करने से नींद आने की समस्या भी बढ़ जाती है।
  • अधिक मात्रा में गर्म पानी का सेवन करने से किडनी पर हल्का-फुल्का दुष्प्रभाव पड़ने की संभावना रहती है।
  • ब्लड सरकुलेशन अत्यधिक बढ़ जाता है।
  • सिर में दर्द हो सकता है।
  • उल्टी हो सकती है।
  • घबराहट हो सकती है।

निष्कर्ष

आज इस आर्टिकल में हमने बताया है कि बवासीर में गर्म पानी के फायदे और नुकसान क्या है (Bawasir mein garam paani peene ke fayde aur nuksaan)

मैं आशा करता हूं कि आपको हमारा यह आर्टिकल जरूर पसंद आया होगा अगर आपके कुछ सवाल या सुझाव है तो आप हमें कमेंट बॉक्स में कमेंट करके पूछ सकते हैं हम आपके सवालों का जवाब देने का प्रयास जरूर करेंगे