लिंग पर तिल का तेल लगाने के फायदे, नुकसान इत्यादि | Til ka tel ling par lagane ke faide

तिल एक बहुत ही गुणकारी औषधि है। आज से ही नहीं बल्कि काफी पुराने समय से इसे औषधि के रूप में उपयोग में लाया जा रहा है। यहां तक कि ग्रंथों और पुराणों में भी तिल के बारे में वर्णन है। 

तिल और तिल का तेल काफी गुणकारी होते हैं और इनमें ऐसे ऐसे गुणकारी तत्व होते हैं जो अलग-अलग प्रकार की बीमारियों के लिए उपयोग में लाए जाते हैं और तिल और तिल के तेल से अलग-अलग प्रकार की दवाइयां भी बनाई जाती है। ‌

इसके साथ साथ ही अगर कोई व्यक्ति नियमित रूप से तिल के तेल को लिंग पर लगाता है और हल्की-फुल्की मालिश भी करता है। तो व्यक्ति की सेक्स परफॉर्मेंस बढ़ जाती है और व्यक्ति का लिंग ज्यादा लंबे समय तक खड़ा रहता है 

इसके साथ साथ ही व्यक्ति की कई अन्य प्रकार की सेक्स संबंधी समस्याएं ठीक हो जाती हैं। लिंग पर तिल का तेल लगाने के अनेकों फायदे हैं इसलिए आज इस आर्टिकल में हम पढ़ेंगे की तिल का तेल लिंग पर लगाने के क्या फायदे हैं?

लिंग पर तिल का तेल लगाने के फायदे क्या है – Benefits of Sesame oil on penis in Hindi

लिंग पर तिल का तेल लगाने के फायदे, नुकसान इत्यादि | Til ka tel ling par lagane ke faide

तिल को एक औषधि के रूप में भी माना जाता है तथा इसकी प्रकृति गरम होती है जिसकी वजह से तिल के तेल को लिंग पर लगाने से लिंग का ब्लड सरकुलेशन बढ़ जाता है और जब लिंग का ब्लड सरकुलेशन बढ़ जाता है तब लिंग ज्यादा देर तक एक्टिव या खड़ा रहता है और आप अपने शरीर में अधिक मर्दानगी और जोश महसूस करते हैं और इसके साथ साथ ही बहुत सारे अन्य लाभ भी होते हैं। जैसे

लिंग पर तिल का तेल लगाने से कामोत्तेजना बढ़ती है

रिसर्च तथा शोध बताते हैं कि अगर आप नियमित रूप से लिंग पर तिल का तेल लगाये और हल्के हाथों से लिंग की मालिश करें तो कामोत्तेजना बढ़ेगी। तिल के तेल में कुछ ऐसे एंटी ऑक्सीडेंट तत्व होते हैं जो कामोत्तेजना को बढ़ाते हैं। 

क्योंकि कई लोगों में सेक्स करने की इच्छा खत्म हो जाती है जिसकी वजह से वें ढंग से सेक्स नहीं कर पाते, परंतु लिंग पर तिल का तेल लगाने से काम उत्तेजना बढ़ती है। काम उत्तेजना के बढ़ने पर आप लंबे समय तक सेक्स इंजॉय कर पाएंगे 

लिंग पर तिल का तेल लगाने से पेनिस का ब्लड सरकुलेशन बेहतर हो जाता है

जब हम किसी पार्टनर के साथ संभोग करते हैं तब संभोग के दौरान हमारे लिंग में ब्लड का सरकुलेशन बढ़ जाता है जिसकी वजह से हम संभोग कर पाते हैं। लेकिन बढ़ती उम्र और कई अन्य कारणों की वजह से पेनिस में ब्लड सरकुलेशन कम होता रहता है जिसकी वजह से व्यक्ति ढंग से सेक्स नहीं कर पाता है।

लेकिन अगर कोई व्यक्ति लिंग पर तिल का तेल लगाता है तो ऐसा करने से उसके लिंग का ब्लड सरकुलेशन बढ़ता है और व्यक्ति लंबे समय तक सेक्स कर पाता है व्यक्ति का लिंग लंबे समय तक खड़ा रहता है और व्यक्ति को थकान भी कम महसूस होती है।

पेनिस पर लिंग का तिल लगाने से आत्मविश्वास (सेक्स के प्रति) बढ़ता है

आमतौर पर देखा गया है कि ज्यादातर लोगों में आत्मविश्वास की कमी होती है जिसकी वजह से जब कोई व्यक्ति सेक्स करता है तो उसे ऐसा लगता है कि वह ढंग से सेक्स नहीं कर पाएगा और होता ही ऐसा है कि वह व्यक्ति ढंग से सेक्स नहीं कर पाता। परंतु लिंग पर तिल का तेल लगाने से व्यक्ति का आत्मविश्वास बढ़ेगा और व्यक्ति सेक्स को बहुत अच्छे से इंजॉय कर पाएगा।

लिंग पर तिल का तेल लगाने से यह क्षतिग्रस्त चीजों को ठीक करता है।

अगर कोई व्यक्ति नियमित रूप से लिंग पर तिल का तेल लगाकर हल्की-फुल्की मालिश करता है तो ऐसा करने से व्यक्ति को सेक्स संबंधी समस्याओं में बड़ा आराम मिलेगा क्योंकि तिल के तेल के अंदर कुछ ऐसे गुणकारी तत्व होते हैं जो कई प्रकार की बीमारियों को ठीक करते हैं जैसे 

किसी व्यक्ति की पेनिस की नसे कमजोर है तो तिल का तेल  नसों को ठीक कर सकता है लिंग को सुडौल और मजबूत बना सकता है तथा लिंग की कठोरता और मोटाई को भी बढ़ा सकता है इसके साथ साथ ही कई अन्य कार्य भी कर सकता है।

लिंग पर तिल का तेल लगाने से यह लिंग की अंदरूनी ताकत को बढ़ाता है

तिल के तेल में कुछ ऐसे एंटी ऑक्सीडेंट और ऐसे गुणकारी तत्व होते हैं जो कई प्रकार की बीमारियों और कमजोरियों का इलाज करने के लिए उपयोग में लाए जाते हैं। नियमित रूप से तिल का तेल लिंग पर लगाने से लिंग की कमजोरी तो दूर होती है और लिंग की अंदरूनी ताकत बढ़ती है और व्यक्ति लंबे समय तक सेक्स को एंजॉय कर पाता है। नियमित रूप से लिंग पर तिल का तेल लगाने से जल्दी डिस्चार्ज भी नहीं होता और सेक्स को लंबे समय तक इंजॉय कर पाता है।

लिंग पर तिल का तेल लगाने से किसी भी प्रकार के फंगल और बैक्टीरियल इंफेक्शन नहीं होते

तिल एक बहुत ही गुणकारी औषधि है यह अलग-अलग प्रकार की बीमारियों के इलाज के लिए भी उपयोग में लाया जाता है तिल का तेल लिंग पर उपयोग करने के अनेकों फायदे हैं जिनमें से एक प्रमुख फायदा यह भी है कि अगर आप नियमित रूप से लिंग पर तिल का तेल लगाते हैं तो ऐसा करने से आपको लिंग पर किसी भी प्रकार के फंगल और बैक्टीरियल इनफेक्शन कभी भी नहीं होंगे।

यह भी पढ़ें: पेनिस पर सरसों के तेल के फायदे और नुकसान | Mustard oil benefits and side effects for pennis in hindi

लिंग पर तिल के तेल की मालिश कैसे करें – How to use Sesame oil for penis in Hindi

लिंग पर तिल के तेल की मालिश करना काफी आसान है मालिश करने के लिए या तो आप अपने किसी पार्टनर से कह सकते हैं या फिर अब खुद भी तिल के तेल की मालिश कर सकते हैं। परंतु मेरी सलाह यह है कि अगर आप लिंग की मालिश कराना चाहते हैं तो आप स्वयं ही इसे करें। लिंग पर तिल के तेल की मालिश करने के स्टेप्स।

  • लिंग या योनि पर तिल का तेल लगाने से पहले अपने प्राइवेट पार्ट्स को बहुत ही अच्छे तरीके से साबुन और पानी की मदद से अच्छी तरीके से धो लें और उसके बाद किसी साफ कपड़े से सुखा लें।
  • और अब थोड़ा सा तिल का तेल अपनी हथेलियों पर निकाले हथेलियों की मदद से इसे अपने दोनों हाथों पर लगाए दोनों हाथों को आपस में थोड़ा सा रगड़े और उसके बाद फिर हल्के हाथों से तिल के तेल को लिंग पर लगाएं लिंग पर तिल का तेल लगाते समय ज्यादा जोर जबरदस्ती ना करें हल्के हाथों से लिंग पर तिल का तेल लगाएं।
  • लिंग पर तिल का तेल लगाते समय लिंग को पकड़े और हल्के हाथों से बाहर की तरफ खींचें, ज्यादा जोर नहीं लगाना है, धीरे धीरे से लिंग को बाहर की तरफ खींचें।
  • ऐसा कम से कम 5 से 6 मिनट करें।
  • इसके बाद हथेलियों पर थोड़ा सा और तेल ले और जैसा कि मैंने पहले बताया हथेलियों को आपस में मलकर लिंग पर लगाएं और अब बाहर से अंदर की ओर धकेल, ज्यादा जोर ना लगाएं, हल्के हल्के हाथों से ऐसा करें कम से कम 5 से 6 मिनट ऐसा करें।
  • नियमित रूप से ऐसा करने से आपको अवश्य लाभ देखने को मिलेगा परंतु ऐसा नहीं है कि आपने यह करना शुरू किया और आपको तुरंत लाभ देखने को मिलेगा अगर आप चाहते हैं कि लिंग पर तेल लगाने पर आपको लाभ हो तो आपको लगातार लगभग 2 महीने तक ऐसा करना पड़ेगा और लगभग 2 महीने के बाद ही आपको असर देखने को मिलेगा।

सावधानियां

लिंग पर तिल का तेल लगाते समय या फिर लिंग की मालिश करते समय कुछ बातों का विशेष ध्यान रखना चाहिए जैसे

ज्यादा जोर जबरदस्ती ना करें

कभी भी लिंग पर तिल का तेल लगाते समय या लिंग की मालिश करते समय लिंग के साथ जोर जबरदस्ती ना करें लिंग को टेढ़ा मेढ़ा ना करें ऐसा करने से आप घायल हो सकते हैं और लिंग भी क्षतिग्रस्त हो सकता है। एक रिसर्च के अनुसार ज्यादातर लोग जब लिंग की मालिश करते हैं तब यह गलती जरूर करते हैं लिंग को आगे पीछे टेढ़ा मेढ़ा करते हैं और फिर लिंग में सूजन आ जाती है।

साफ सफाई का ध्यान रखे 

अपने हाथों को और प्राइवेट पार्ट्स को बहुत अच्छी तरीके से साफ करें अगर आप साफ सफाई का ध्यान नहीं रखते हैं तो आपको इंफेक्शन हो सकता है और अन्य समस्याएं भी हो सकती हैं।

निष्कर्ष

मैं आशा करता हूं कि आपको हमारा यह आर्टिकल पसंद आया होगा हमने इस आर्टिकल में लिंग पर तिल का तेल लगाने के फायदे के बारे में विस्तार पूर्वक बताया है।

अगर आपके कोई सवाल या सुझाव हैं तो आप हमें कमेंट बॉक्स में कमेंट करके पूछ सकते हैं हम आपके सवालों का जवाब देने का प्रयास जरूर करेंगे।