खाना खाने के बाद उल्टी होने के कारण और उपाय | Vomiting After Meal In Hindi

अक्सर आपने देखा होगा कुछ लोग खाना खाने के बाद उल्टी कर देते हैं ऐसा कुछ लोगों के साथ अक्सर होता रहता है। खाना खाने के बाद उल्टी होने के कई कारण हो सकते हैं जिनमें से तीन सबसे आम है गर्भावस्था, ओवरईटिंग और फूड पॉइजनिंग।

परंतु ऐसा ही नहीं है कि सिर्फ इन तीन कारणों की वजह से ही खाना खाने के बाद उल्टी होती है। कई अन्य कारण भी हैं इसलिए आज इस आर्टिकल में हमने बताया है कि खाने के बाद उल्टी होने के कारण क्या है, खाने के बाद उल्टी को दूर करने के उपाय और अगर किसी व्यक्ति को उल्टी आ रही है तो वह क्या करें कि उल्टी ना आए।

खाने के बाद उल्टी होने के कारण – Causes of vomiting after eating food in Hindi

खाना खाने के बाद उल्टी होने के कारण और उपाय | Vomiting After Meal In Hindi

वैसे तो खाना खाने के बाद उल्टी आने के कई कारण हो सकते हैं लेकिन इनमें तीन कारण सबसे आम है गर्भावस्था, एसिडिटी होना और फूड पॉइजनिंग।

खाना खाने के बाद उल्टी होने के कारणों की सूची निम्नलिखित है।

फूड एलर्जी

कई बार खाने में कुछ ऐसी चीजें पड़ी होती हैं जिनसे लोगों को एलर्जी होती है अगर किसी व्यक्ति को किसी चीज से एलर्जी है और वह गलती से उस चीज को खा ले तो खाना खाने के बाद उल्टी आने की संभावना हो सकती है।

फूड प्वाइजनिंग

अक्सर कई लोग स्वाद स्वाद के चक्कर में बेकार और खराब भोजन खा लेते हैं जिसकी वजह से उन्हें फूड पॉइजनिंग का सामना करना पड़ता है फूड प्वाइजनिंग होने पर अत्यधिक दर्द होता है जैसे उल्टियां-दस्त।

प्रेगनेंसी

गर्भावस्था के दौरान उल्टी होना एक आम बात है क्योंकि गर्भावस्था के दौरान महिलाओं के शरीर में काफी सारे बदलाव होते रहते हैं। हार्मोन के स्तर में उतार-चढ़ाव के कारण पाचन तंत्र संबंधी समस्याएं भी आ सकती हैं जिनकी वजह से महिलाओं को खट्टी डकार, जी मिचलाना, उल्टी आना, दस्त लगना गैस बनना आदि जैसी समस्याएं होने लगती हैं।

Note :- वैसे तो गर्भावस्था के दौरान उल्टी आना सामान्य है परंतु अगर किसी गर्भवती महिला को अत्यधिक उल्टियां आ रही हो तो तुरंत डॉक्टर को दिखाएं।

एसिडिटी

कई बार अधिक तेल मसाले वाला खाना खाने से हमारे पेट में एसिड बनने लगता है और जब पेट में एसिड की मात्रा अधिक हो जाती है तब हमें उल्टी आने की संभावनाएं अत्यधिक बढ़ जाती हैं।

पित्ताशय रोग

पित्ताशय हमारे पाचन तंत्र का एक महत्वपूर्ण अंग है पित्ताशय में से पित्त रस का स्राव होता है जो पाचन तंत्र में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है पाचन तंत्र संबंधी रोग होने पर भोजन को पचाने में समस्या आती है और जब भोजन पचेगा ही नहीं तो उल्टी आने की संभावना बढ़ जाती है।

कैंसर का उपचार

अगर आप कैंसर का उपचार करा रहे हैं जैसे कीमोथेरेपी ले रहे हैं या फिर किसी अन्य बड़ी बीमारी का उपचार करा रहे हैं तो उनकी दवाइयों से तथा बीमारियों द्वारा पाचन तंत्र पर बहुत बुरा प्रभाव पड़ता है जिसकी वजह से उल्टी आना तथा अन्य पाचन तंत्र संबंधी समस्याएं होना आम है।

चिंता, भय और तनाव

जब व्यक्ति तनाव चिंता या किसी प्रकार के भय से ग्रस्त रहता है तब व्यक्ति को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ता है उसका शरीर ढंग से कार्य नहीं कर पाता और पाचन तंत्र संबंधी समस्याएं होना तो बहुत ही आम बात है और जब पाचन तंत्र संबंधी समस्याएं होती हैं तब उल्टी आना स्वाभाविक है।

पेट में संक्रमण

अगर किसी व्यक्ति को पेट में किसी भी प्रकार का संक्रमण है तो उसे पाचन तंत्र संबंधी समस्याएं हो सकती हैं जिसकी वजह से व्यक्ति को पेट में दर्द, उल्टी-दस्त जैसी समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है ऐसा कुछ होने पर तुरंत डॉक्टर से मिले और डॉक्टर से सलाह लें।

मोशन सिकनेस

कई लोगों में मोशन सिकनेस की बीमारी होती है अक्सर आपने देखा होगा कई लोग बस में या ट्रेन में उल्टी करने लगते हैं ऐसा इसलिए होता है क्योंकि उन्हें मोशन सिकनेस की बीमारी होती है जिसमें व्यक्ति को किसी भी मोशन से घबराहट होने लगती है और घबराहट होने के कारण व्यक्ति को उल्टी जैसी समस्या हो सकती है।

खून की कमी और पीलिया

शरीर में खून की कमी होना या फिर पीलिया की समस्या होना ऐसे कारण हैं जिनका दुष्प्रभाव हमारे पाचन तंत्र पर पड़ता है जिससे हमारा पाचन तंत्र कमजोर हो जाता है और जब पाचन तंत्र कमजोर हो जाता है तब उल्टी आने की संभावना बढ़ जाती है क्योंकि हमारा शरीर खाने को पचा नहीं पाता है।

लिवर और किडनी संबंधी रोग

लिवर तथा किडनी संबंधी रोग जैसे किडनी में अल्सर तथा पथरी होना इन कारणों की वजह से भी खाना खाने के बाद उल्टी आने की समस्या हो सकती है।

वायरल और बैक्टीरियल संक्रमण

बदलते मौसम के कारण कई प्रकार के वायरल और बैक्टीरियल इंफेक्शन हो जाते हैं जो व्यक्ति के पाचन तंत्र को प्रभावित कर सकते हैं जिसकी वजह से उल्टी आने की समस्या हो सकती है।

ओवरईटिंग

कई बार लोग खुद की मर्जी से या औरों के दबाव में आकर अत्याधिक भोजन कर लेते हैं जिसकी वजह से बाद में उन्हें समस्याएं होती हैं और अत्याधिक भोजन करना खाना खाने के बाद उल्टी आने का सबसे आम कारण है।

अन्य स्वास्थ्य समस्याएं

कई तरह की शारीरिक समस्याएं जैसे सिर दर्द होना, बुखार आना, डायबिटीज होना, फेफड़ों में संक्रमण होना और फोड़ा फुंसी होना आदि कारणों से भी खाना खाने के बाद उल्टी आने की समस्या हो सकती है।

अत्याधिक दर्द

अगर किसी व्यक्ति को किसी भी कारणवश अत्यधिक दर्द होता है तो खाना खाने के बाद उल्टी आने की संभावना रहती है।

दुर्गंध और कुछ तीव्र गंध

कई बार कुछ तीव्र गंध परफ्यूम और डिओडरेंट आदि की गंद इतनी तेज होती है जिनकी गंध से हम अनकंफरटेबल हो जाते हैं और कई बार तो कई लोग उल्टी तक कर देते हैं ऐसा आपके साथ भी कभी ना कभी हुआ होगा।

यह भी पढ़ें:- चाय पीने के नुकसान | चाय पीने के फायदे

खाना खाने के बाद उल्टी आने का इलाज क्या है (घरेलू नुस्खे) – Measures to relieve vomiting after eating food in hindi

अगर आपको भी खाना खाने के बाद उल्टी आने की समस्या है या आप जैसे ही खाना खाते हैं आपको अक्सर उल्टी हो जाती है तो आप नीचे दिए गए घरेलू नुस्खों का प्रयोग कर सकते हैं यह लाभदायक हैं, आसान हैं और इनके कुछ दुष्प्रभाव भी नहीं हैं।

अदरक 

अदरक का सेवन आज से ही नहीं बल्कि काफी लंबे समय से उल्टी को रोकने के लिए किया जा रहा है अदरक का सेवन शहद के साथ मिलाकर किया जाता है ऐसा करने से उल्टी रुक जाती है।

नींबू

नींबू का उपयोग अक्सर उल्टी को रोकने के लिए किया जाता है। नींबू को काटने के बाद उसके ऊपर हल्का सा काला नमक या सादा नमक लगाकर, नींबू को चाटा जाए तो उल्टी नहीं आती।

पुदीना

पुदीना उल्टी के लिए एक रामबाण उपाय है क्योंकि पुदीने का उपयोग करने से पाचन तंत्र ठीक हो जाता है और उल्टी की समस्या भी दूर होती है।

गिलोय

अगर आपको उल्टी की समस्या है तो आप गिलोय का काढ़ा बनाकर सुबह-शाम दो-दो चम्मच पिऐ। ऐसा करने से आपको खाना खाने के बाद उल्टी आने की समस्या से निजात मिल जाएगी।

धनिया

धनिया का उपयोग अक्सर उल्टी को रोकने के लिए किया जाता है धनिया में कुछ ऐसे तत्व होते हैं जिनका सेवन करने से उल्टी नहीं होती। आप धनिया में थोड़ा-सा सेंधा नमक और नींबू मिलाकर इसका सेवन कर सकते हैं।

तुलसी

तुलसी तो उल्टी के लिए एक रामबाण उपाय है तुलसी का सेवन आप चाय में डालकर कर सकते हैं या फिर आप तुलसी की पत्तियों को चबा कर भी खा सकते हैं।

संतरे का जूस

संतरे का जूस अक्सर उल्टी को रोकने के लिए काफी फायदेमंद होता है इसके अलावा यह शरीर के ब्लड प्रेशर को भी ठीक करता है इसमें कुछ ऐसे तत्व होते हैं जो उल्टी को रोकने में मदद करते हैं।

काली मिर्च

अक्सर आपने देखा होगा कि काली मिर्च का उपयोग दांत में दर्द, खांसी-जुकाम आदि को ठीक करने के लिए किया जाता है परंतु काली मिर्च का उपयोग उल्टी को रोकने के लिए भी किया जाता है और यह काफी कारगर भी है।

अनार

अनार एक ऐसा फल है जिसका प्रयोग उल्टी को रोकने के लिए किया जाता है आप चाहे तो अनार के जूस का सेवन कर सकते हैं अनार के जूस में हल्का सा काला नमक मिलाकर इसका सेवन किया जाए तो आपको उल्टी में अवश्य लाभ होगा।

सौंफ

सौंफ एक मसाला है इसका उपयोग मुंह के स्वाद को बदलने के लिए किया जाता है आप थोड़ी सी सौंफ अपने मुंह में रख ले तो आपको उल्टी नहीं आएगी।

लौंग

लौंग एक प्रकार की औषधि है इसका उपयोग आप अलग-अलग प्रकार की बीमारियों के लिए कर सकते हैं लौंग उल्टी के लिए काफी गुणकारी औषधि है इसका उपयोग करने पर उल्टी नहीं होती।

अगर आपको भी खाना खाने के बाद उल्टी आने की समस्या है या आप जैसे ही खाना खाते हैं आपको अक्सर उल्टी हो जाती है तो आप नीचे दिए गए घरेलू नुस्खों का प्रयोग कर सकते हैं यह लाभदायक हैं आसान हैं और इनके कोई दुष्प्रभाव भी नहीं हैं।

उल्टी की रोकथाम – Prevention from vomiting in Hindi

अगर आपको ऐसा लगता है कि कुछ समय बाद आपको उल्टी हो जाएगी या आपका मन उल्टी करने को कर रहा है तो अगर आप खड़े हैं तो बैठ जाएं या फिर लेट जाएं क्योंकि फिजिकली ज्यादा एक्टिव रहने से उल्टी आने की संभावना अधिक बढ़ जाती है।

अगर आपको उल्टी आने ही वाली है तो आप थोड़ा-थोड़ा पानी पिए और हो सके तो कुछ मीठा खा लें ऐसा करने से आपके पेट को आराम मिलता है जिससे उल्टी आने की संभावना काफी हद तक कम हो जाती है।

ऐसी स्थिति में एसिडिक ड्रिंक्स जैसे कि ऑरेंज जूस और अंगूर का जूस नहीं पीना चाहिए।

अगर आपको कहीं जाना है और आपको ऐसा लगता है कि कहीं आपको उल्टी ना हो जाए तो हमेशा ध्यान रखें कभी भी ज्यादा तेल मसाले वाला भोजन ना करें और ना ही ऐसा भोजन करें जो पचने में दिक्कत करें।

खाना खाने के बाद उल्टी आने के लिए दवाई – Medicines to avoid vomiting in Hindi

अगर आपको खाना खाने के बाद उल्टी आती है या आपके साथ अक्सर ऐसा होता है तो आप डॉक्टर से सलाह लें और इलाज कराएं। अक्सर ऐसी स्थिति का इलाज होता है तो डॉक्टर निम्नलिखित दवाइयों का प्रयोग करता है निम्नलिखित दवाइयों का उपयोग खाना खाने के बाद उल्टी आना तथा अन्य कारणों से उल्टी आने की समस्या के लिए किया जाता है।

Hyoscine \ हायोसिन

Dicyclomine \ डाईसाइक्लोमाइन

Promethazine \ प्रोमेथाज़ीन

Bismuth \ बिस्मथ

Dimenhydrinate \ डाईमेनहाईड्रिनेट

Meclizine \ मैक्लिज़ाइन

Promethazine thiolate

Doxylamine \ डोक्सिलामाइन

Pyridoxine \  पाइरिडोक्सिन

Diligan \ डिलिगैन

Pregnidoxin \ प्रेग्नीडोक्सीन

Cinnarizine \ सिनार्ज़िन

Haloperidol \ हैलोपेरिडोल

Prochlorperazine \ प्रोच्लोरपेराज़ीन

Ondansetron \ ओन्डेंसेट्रोन

Scopolamine \ स्कोपोलामिन

Aprepitant \ एप्रेपिटेंट 

Metoclopramide \ मेटोक्लोप्रामिड

Tigan

Dronabinol \ ड्रोनाबिनोल

निष्कर्ष

हमने इस आर्टिकल में बताया है कि खाना खाने के बाद उल्टी आने के कारण क्या हैं, खाना खाने के बाद उल्टी आने का इलाज क्या है (घरेलू नुस्खे) और अगर किसी व्यक्ति को उल्टी आ रही है तो क्या करें कि उल्टी ना आए।

मैं आशा करता हूं कि आपको हमारा यह आर्टिकल पसंद आया होगा अगर आपके कोई सवाल या सुझाव हैं तो आप हमें कमेंट बॉक्स में कमेंट करके पूछ सकते हैं हम आपके सवालों का जवाब देने का प्रयास जरूर करेंगे।