आंख फड़कना क्या है | आँख फड़कना किस बात का संकेत देता है?

क्या कभी आपने इस बात पर गौर किया है कि कभी कभी हमारी आंख अपने आप फड़कने लगती है परंतु ज्यादातर लोग इसे मान्यताओं के साथ जोड़ने लगते हैं जैसे आंख फड़कने पर व्यक्ति के साथ बुरा होगा या अच्छा होगा। 

शायद आपने भी कभी ना कभी अपने माता-पिता या किसी अन्य सदस्य को यह बातें बोलते हुए जरूर सुना होगा। ज्यादातर लोग इन बातों को लेकर अक्सर काकी असमंजस में रहते हैं और उन्हें समझ नहीं आता कि क्या उन्हें इन बातों पर भरोसा करना चाहिए या नहीं।

इसलिए आज इस आर्टिकल में हम बात करेंगे कि क्या आंख फड़कना शुभ होता है या नहीं?, इसके साथ साथ ही वैज्ञानिक रूप से आंख फड़कने का क्या मतलब होता है और शास्त्रों के अनुसार आंख फड़कने का क्या अर्थ होता है इन दोनों विषयों पर चर्चा करेंगे। इसके साथ-साथ हम अंत में एक निष्कर्ष भी बताएंगे जिसमें इस विषय को लेकर हम अपनी व्यक्तिगत राय देंगे। 

आंख फड़कना क्या है – What is eye twitching in Hindi

आंख फड़कना क्या है | आँख फड़कना किस बात का संकेत देता है?

आंखें हमारे शरीर का एक बहुत ही महत्वपूर्ण अंग हैं आंखों की मदद से हम इस सुंदर संसार को देख पाते हैं सभी लोग आमतौर पर अपनी आंखों को बार-बार झपकाते रहते हैं परंतु कई बार ऐसा होता है हमारी आंख अपने आप ही झपकने लगती है या फिर आंख के नीचे का हिस्सा हिलने लगता है और इस क्रिया पर व्यक्ति का नियंत्रण नहीं होता है इस स्थिति को ही आंखें फड़कना कहते हैं यह कभी भी हो सकता है किसी को भी हो सकता है या कितनी भी देर तक के लिए हो सकता है।

आँखों का फड़कना – क्या कहता है विज्ञान?

विज्ञान के अनुसार आंख का फड़कना एक सामान्य सी क्रिया है और यह सामान्य तौर पर कई कारणों से हो सकती है अगर व्यक्ति को अधिक थकान हो रही है, या फिर व्यक्ति सही ढंग से सो नहीं पा रहा है या फिर अत्यधिक मात्रा में कैफीन का उपयोग कर रहा है तो यह स्थिति उत्पन्न हो सकती है। 

बायीं आँख फड़कने का मतलब – शास्त्रों के अनुसार

• शास्त्रों के अनुसार आंख फड़कना कोई सामान्य क्रिया नहीं है बल्कि शास्त्रों में बाई आंख फड़कने को एक संकेत माना गया है जो हमें हमारे जीवन कि गतिविधियों और भविष्य में होने वाली गतिविधियों के बारे में सूचित करता है। 

• अगर किसी पुरुष की बाईं आंख फड़कती है तो उस व्यक्ति को हानि होने की संभावना होती है मतलब कि किसी भी प्रकार की हानि होना या क्षति होना।  

• जबकि अगर किसी महिला की बाई आंख फड़कती है तो यह उस महिला के लिए शुभ है बाई आंख फड़कने से उस महिला को किसी ना किसी प्रकार से लाभ जरूर होगा।

• आंख फड़कना मुख्य रूप से संकेत होता है जिसके आधार पर आप अपने कार्यों को कर सकते हैं उदाहरण के लिए अगर किसी महिला कि दाई आंख फड़कती है तो उसे विशेष सावधानी रखनी चाहिए दाई आंख फड़कने से किसी को क्षति नहीं होती परंतु हम कुछ सावधानियां रख सकते हैं और सावधानियां रखने से हमेशा लाभ ही होता है ना कि कभी नुकसान होता है।

आँख फड़कने के कारण – Eye twitching causes in hindi

• हमारी आंख कई अलग-अलग प्रकार की छोटी छोटी चीजों से मिलकर बनी होती है इसलिए हमें अपनी आंखों का विशेष ध्यान रखना चाहिए आंख फड़कना कोई रोग नहीं है परंतु इसकी वजह से हमें समस्याएं हो सकती हैं।

 • कई बार इरिटेशन होने से हमें आंख फड़कने की समस्या होने लगती है।

• आंखों पर ज्यादा जोर या दबाव पड़ने की वजह से इस प्रकार की समस्या होने लगती है कई बार जब कोई चीज हमारी आंखों से काफी दूर रखी होती है और हम अपनी आंखों से उसे देखने के लिए आंखों पर जोर देते हैं तो ऐसी स्थिति उत्पन्न हो सकती है।

• कई बार अधिक थकान के कारण भी हमें आंख फड़कने की समस्या हो सकती है यह सामान्य सी बात है क्योंकि जब हमारा शरीर थक जाता है तब हमारा दिमाग भी थक जाता है और हमारे दिमाग और आंखों का गहरा संबंध होता है।

• ऐसी समस्या विशेषकर उन लोगों के साथ ज्यादा होती है जो बहुत कम सोते हैं या फिर सोते ही नहीं हैं। नींद ना पूरी होना इसका एक प्रमुख कारण है इसलिए कम से कम 7 से 8 घंटे की नींद लेनी चाहिए।

• किसी दवाई के साइड इफेक्ट की वजह से भी हमें यह समस्या हो सकती है।

• अगर हमें किसी प्रकार का अधिक तनाव है तो हमें उस तनाव को कम करने के लिए प्रयास करना चाहिए क्योंकि तनाव की वजह से हमें अलग-अलग प्रकार की कई बीमारियां हो सकती हैं जिनमें से एक आंख फड़कना है।

• अधिक मात्रा में शराब तंबाकू या फिर नशीले पदार्थों का सेवन कर रहे हैं तो आपको आंख फड़कने जैसी समस्याएं हो सकती हैं

आंख फड़कने का इलाज  – Eye twitching treatment in Hindi

जैसा कि मैं आपको पहले भी बता चुका हूं कि आंख फड़कना कोई बीमारी नहीं है इसलिए यह व्यक्ति को 5 से 10 मिनट तक होती रहती है और बाद में अपने आप ही ठीक हो जाती है परंतु जिन लोगों को आंख फड़कने की समस्या कुछ ज्यादा ही रहती है वह निम्नलिखित उपायों को अपना सकते हैं।

• कम मात्रा में कॉफी या चाय का सेवन करना।

• एक अच्छी और संपूर्ण नींद लेना।

• समय-समय पर अपनी आंखों को पानी से धोते रहना।

• आंखों से जुड़ी एक्सरसाइज करना

और अगर इतना सब होने के बाद भी आपको आराम नहीं मिलता है तो आप डॉक्टर से सलाह ले सकते हैं और डॉक्टर आपको कुछ दवाइयां देगा जिससे आप ठीक हो जाएंगे।

यह भी पढ़ें:- ओचोआ सिंड्रोम (Ochoa syndrome) क्या है | Ochoa syndrome की जानकारी

आंख फड़कने से बचाव के उपाय – Eye twitching prevention in hindi

आंख फड़कना कोई बीमारी नहीं है यह एक सामान्य सी क्रिया है जो कभी भी किसी को भी हो सकती है परंतु जब यह किसी व्यक्ति को हो जाती हैै तो यह उसे काफी परेशान करती हैं इससे बचने के उपाय हैं

• अत्याधिक मात्रा में नशीले पदार्थों का सेवन ना करें।

• किसी भी दवाई के साइड इफेक्ट होने पर डॉक्टर से तुरंत मिलें।

• अत्यधिक तनाव से बचें जिसके लिए आप चाहें तो योगा कर सकते हैं।

• आंखों पर ज्यादा दबाव ना डालें अगर आपको आंखों पर ज्यादा दबाव महसूस होता है तो डॉक्टर से मिले और चश्मे का इस्तेमाल करें।

• हमेशा मुंह धोते समय अपनी आंखों को अच्छे तरीके से पानी से धोएं।

निष्कर्ष

मैं आशा करता हूं कि आपको हमारा यह आर्टिकल पसंद आया होगा हमने इस आर्टिकल में बताया है आंख फड़कने के बारे में तथा आंख फड़कने से जुड़े सभी विषयों के बारे मेें जैसे की आंख फड़कना क्या है, वैज्ञानिक तौर पर और शास्त्रों के अनुसार आंख फड़कने के क्या मायने हैं। और इन सभी बातों से जुड़ी भ्रांतियों के बारे में भी विस्तार पूर्वक चर्चा की है।


प्रश्न और उत्तर

बाया आंख फड़कने से क्या लाभ होता है?

बाया आंख फड़कने से पुरुषों को लाभ नहीं होता बल्कि हानि होती है जबकि महिलाओं को बाई आंख फड़कने से लाभ होता है महिलाओं को बाई आंख फड़कने से मुख्य रूप से कुछ अच्छी खबर आने की संभावना होती है। जैसे रिश्तो में सुधार होना, आर्थिक रूप से सहायता मिलना।

दोनो आँख के एक साथ फड़कने के कारण?

दोनों आंखों के एक साथ फड़कने के कई कारण हो सकते हैं जिनमें से प्रमुख है अधिक तनाव होना और नींद पूरी ना होना।

दाहिनी आंख फड़कने का उपाय बताइए?

अगर किसी व्यक्ति की दाहिनी आंख फड़कती है तो उसे कई कारणों से ऐसा हो सकता है जैसे अधिक तनाव होने से या नींद पूरी ना होने से तो इन सभी कारणों को खत्म करने से आप इसका इलाज कर सकते हैं।

दाएं और बाएं आंख फड़कने से क्या होता है?

अगर किसी पुरुष की बाईं आंख फड़कती है तो उस व्यक्ति को हानि होने की संभावना होती है मतलब कि किसी भी प्रकार की हानि होना या क्षति होना। जबकि अगर किसी महिला की बाई आंख फड़कती है तो यह उस महिला के लिए शुभ है बाई आंख फड़कने से उस महिला को किसी ना किसी प्रकार से लाभ जरूर होगा।