Laser treatment for ance scars | फायदे, नुकसान, इत्यादि

Laser treatment for ance scars | फायदे, नुकसान, इत्यादि

मुँहांसो के निशान के लिए लेजर ट्रीटमेंट क्या है

Laser treatment for acne scars मुंहासे एक ऐसी चीज है जो हर व्यक्ति को अपने जीवन में कभी ना कभी होते हैं और यह काफी दर्द दायक भी होते हैं परंतु सबसे बड़ी मुसीबत तब होती है जब यह मुहासे हट जाते हैं और इनकी जगह इनके दाग हमारी त्वचा पर रह जाते हैं और वह दाग हमें काफी परेशान करते हैं और हमारी त्वचा भद्दी दिखने लगती है विशेषकर तब जब यह धब्बे हमारे मुंह पर होते हैं तो हमारा चेहरा काफी अजीब सा लगता है और इससे हमारी सुंदरता पर भी काफी फर्क पड़ता है।

इन मुंहासे के निशानों को हटाने के लिए आप अलग-अलग प्रकार के ट्रीटमेंट कर सकते हैं कुछ ट्रीटमेंट कारगर साबित होते हैं और कुछ ट्रीटमेंट व्यर्थ साबित होते हैं व्यक्ति फिर भी काफी परेशान रहता है इन सभी दागों से छुटकारा पाने के लिए आप लेजर ट्रीटमेंट का सहारा भी ले सकते हैं लेजर ट्रीटमेंट एक ऐसी तकनीक है जो त्वचा में दागों को खत्म करने के लिए विशेष रूप से मुंहासे के निशानों को खत्म करने के लिए उपयोग में लाई जाती है।

इसलिए आज हम बात करेंगे कि लेजर ट्रीटमेंट क्या है, लेजर ट्रीटमेंट करने के क्या-क्या फायदे हैं, लेजर ट्रीटमेंट कैसे किया जाता है इसके क्या-क्या दुष्प्रभाव है और इसके अलावा काफी अन्य जानकारियां और सवाल जो आपको लेजर ट्रीटमेंट कराने से पहले जान लेनी चाहिए।

Table of contents

मुँहांसो के निशान के लिए लेजर ट्रीटमेंट क्या है - What is Laser Treatment For Acne Scars in Hindi

99% से ज्यादा मामलों में चेहरे पर पिंपल होने के बाद उनका निशान रह जाता है जो व्यक्ति को काफी परेशान करता है। मुहासे के निशानों को हटाने के लिए लेजर ट्रीटमेंट का उपयोग किया जाता है। laser treatment का मूल उद्देश्य मुहांसों के निशानों और अन्य दागों को कम करना होता है जिससे या तो ये आसानी से दिखते नहीं है या बिल्कुल खत्म हो जाते हैं।

लेजर मुहांसों के निशानों की ऊपरी त्वचा की कोशिकाओं को तोड़कर हटाया देता है और उन्हें नई और स्वस्थ कोशिकाओं से बदल देता है। और दागों को संपूर्ण रूप से हटा देता है।

अगर लेजर ट्रीटमेंट मुहांसों के निशानों को संपूर्ण रूप से हटा नहीं पाता तो इन दाग धब्बों को इतना छोटा और हल्का कर देता है कि यह त्वचा पर आसानी से दिखते नहीं हैं और इसके साथ-साथ लेजर ट्रीटमेंट इन मुहांसों के निशानों से हो रहे दर्द से भी राहत दिलाने में मदद करता है।

अगर आपको पिंपल हो या आपकी त्वचा पर अधिक झुर्रियां हों या फिर त्वचा का रंग गहरा हो तो शायद लेजर ट्रीटमेंट आपके लिए उचित नहीं होगा लेजर ट्रीटमेंट करने से पहले या अपनी त्वचा से संबंधित किसी भी प्रकार का ट्रीटमेंट करने से पहले त्वचा रोग विशेषज्ञ (डर्मेटोलॉजिस्ट) से सलाह ले।

यह भी पढ़ें:- अवसाद (Depression): लक्षण, कारण, ट्रीटमेंट इत्यादि

मुहांसों के निशान के लिए लेजर ट्रीटमेंट कैसे किया जाता है - How does Laser Treatment For Acne Scars work in Hindi

laser treatment दो प्रकार से काम करता है पहले तरीके में लेजर ट्रीटमेंट द्वारा मुहांसों के निशानों की सबसे ऊपरी त्वचा की कोशिकाओं और ऊतकों को लेजर के प्रकाश और गर्मी की सहायता से तोड़कर हटाया दिया जाता है और जैसे ही ऊपरी त्वचा हट जाती है नई और मुलायम त्वचा ऊपर आ जाती है और निशान या दाग धब्बे कम दिखाई देते हैं या हट जाते हैं।

जब दाग धब्बों की ऊपरी त्वचा हट जाती है तो लेजर की रोशनी और गर्मी की वजह से नई और स्वस्थ कोशिकाओं की वृद्धि होती है और उस क्षेत्र की मरी हुई त्वचा में रक्त प्रभाव भी शुरू हो जाता है और इस संपूर्ण ट्रीटमेंट के बाद धागों की लाली कम हो जाती है और दाग हल्के या छोटे दिखाई देते हैं या दिखाई ही नहीं देते।

यह भी पढ़ें:- मासिक धर्म (periods): लक्षण, इलाज, और अन्य जानकारी

लेजर ट्रीटमेंट क्यों किया जाता है - Why laser treatment is done in Hindi 

शरीर के किसी भी अंग पर मुंहासे होने के बाद वहां पर उसका दाग रह जाता है जो देखने में काफी अजीब से लगते हैं और इससे हमारी त्वचा पर दाग जैसा प्रतीत होता है विशेष रूप से तब जब यह हमारे चेहरे पर हो।

अगर ऐसा कोई निशान या दाग हमारे चेहरे पर होता है तो इससे हमारे चेहरे के निखार में समस्या आती है व्यक्ति को अच्छा महसूस नहीं होता है।

तो इन्हीं सभी कारणों से बचने के लिए व्यक्ति को इन मुहांसों के निशानों को हटाने की जरूरत पड़ती है इसके लिए व्यक्ति कई प्रकार के ट्रीटमेंट कर सकता है जिनमें से एक है लेजर ट्रीटमेंट।

लेजर ट्रीटमेंट के लाभ क्या है - Benefits of laser treatment in Hindi

अगर आप मुंहासे के निशान को हटाने के लिए लेजर ट्रीटमेंट कराने के बारे में सोच रहे हैं तो आपको इससे जुड़े लाभ और हानियों के बारे में जान लेना चाहिए। 

- लेसर ट्रीटमेंट से जुड़ा पहला भाग है कि यह काफी सुविधाजनक विकल्प है।

- अन्य विकल्पों की तुलना में अपेक्षाकृत ज्यादा आरामदायक है क्योंकि इसके दौरान दर्द नहीं होता है।

- यह ट्रीटमेंट काफी कम समय लेता है यहां तक की कुछ लेजर ट्रीटमेंट केवल 15 मिनट के अंदर-अंदर समाप्त हो जाते हैं।

- अन्य वैकल्पिक ट्रीटमेंटों के तुलना में लेजर ट्रीटमेंट के परिणाम ज्यादा अच्छे आते हैं।

- लेजर ट्रीटमेंट का एक सबसे बड़ा और महत्वपूर्ण फायदा यह है कि लेजर ट्रीटमेंट के परिणाम जल्दी ही देखने को मिलते हैं।

लेसर ट्रीटमेंट के और अधिक अच्छे परिणाम देखने के लिए आपको कम से कम 2 से 3 सत्र करने पड़ते हैं।

यह भी पढ़ें:- कंडोम (Condom) क्या है और कंडोम इस्तेमाल कैसे करते हैं इत्यादि

लेजर ट्रीटमेंट के दुष्प्रभाव क्या है - Side effects of laser treatment in Hindi

लेजर ट्रीटमेंट के दुष्प्रभाव क्या है

मुहांसों के निशान को हटाने के लिए लेजर ट्रीटमेंट कराने के कुछ दुष्प्रभाव भी होते हैं और यह इस बात पर निर्भर करते हैं कि आप किस प्रकार का लेजर ट्रीटमेंट करवा रहे हैं और कितनी बार करवा रहे हैं।

- सूजन होना

- त्वचा का लाल होना

- और दर्द होना (ट्रीटमेंट कराते समय)

लेजर ट्रीटमेंट कराने के एक या 2 घंटे बाद तक ही दर्द रहता है उसके बाद दर्द नहीं होता है लेकिन लालपन कम होने के लिए 10 से 15 दिनों तक लग सकते हैं। 

इसके साथ साथ ही लेजर ट्रीटमेंट कराने के कई अन्य दुष्प्रभाव भी है जैसे हाइपरपिगमेंटेशन होना और इन्फेक्शन होना परंतु यह दोनों दुष्प्रभाव आमतौर पर आसानी से नहीं होते हैं। 

कुछ सावधानियों द्वारा इन दोनों दुष्प्रभावों से आसानी से बचा जा सकता है। अच्छा होगा अगर आप लेजर ट्रीटमेंट लेने से पहले इन सभी दुष्प्रभावों के बारे में अपने डॉक्टर से सलाह ले, इसके बाद में ही लेजर ट्रीटमेंट कराने का सुनिश्चित करें।

अगर laser treatment कराने के बाद आपको बुखार होना, पीप बनना, और अत्यधिक सूजन होना ऐसी समस्याएं आ रही है तो आपको तुरंत अपने डॉक्टर को दिखाना चाहिए।

लेजर ट्रीटमेंट की प्रक्रिया क्या है - Procedure of laser treatment in Hindi

लेजर ट्रीटमेंट के लिए आमतौर पर कई प्रकार की लेजर का उपयोग किया जाता है परंतु सामान्यतः लेजर ट्रीटमेंट में उपयोग की जाने वाली लेज़र है जैसे erbium YAG lasers, carbon dioxide (CO2) lasers, and pulsed-dye lasers 

अलग-अलग प्रकार की लेजर अलग-अलग प्रकार के मुहांसों के ट्रीटमेंट के लिए उपयोग की जाती है और इन सभी का कार्य अलग-अलग होता है। 

लेजर ट्रीटमेंट के प्रकार क्या है - Types of laser treatment in Hindi



एब्लेटिव लेजर रिसर्फेसिंग

इस प्रकार की लेजर ट्रीटमेंट में erbium YAG or carbon dioxide CO2 laser का उपयोग किया जाता है इस प्रकार के ट्रीटमेंट का मूल उद्देश्य होता है कि मुंहासे के निशान से ग्रस्त त्वचा की सबसे ऊपरी परत को हटाना।

और आमतौर पर इस ट्रीटमेंट द्वारा उत्पन्न हुए कुछ लक्षण जैसे त्वचा का लाल होना, ठीक होने के लिए लगभग लगभग 3 से 10 दिन का समय लेता है।

नॉन-एब्लेटिव लेजर रिसर्फेसिंग

इस प्रकार के laser treatment में लेजर में इंफ्रारेड लाइट भी होती है और यह लेजर गर्मी की वजह से त्वचा में उपस्थित कॉलेजन प्रोटीन की मात्रा में वृद्धि करने में मदद करता है और क्षतिग्रस्त और मृत कोशिकाओं को अच्छी और स्वस्थ कोशिकाओं से बदल देता है।

 Fractionated लेजर ट्रीटमेंट

इस प्रकार के लेजर ट्रीटमेंट में त्वचा से क्षतिग्रस्त कोशिकाओं को निकाला जाता है और यह उपचार अच्छी और स्वस्थ कोशिकाओं के विकास होने में मदद मिलती हैै।

लेजर ट्रीटमेंट कराने के लिए कुछ तैयारियां - Preparation for laser treatment in Hindi

लेजर ट्रीटमेंट कराने के लिए व्यक्ति को कुछ तैयारियां करनी पड़ती हैं व्यक्ति को अपने जीवन शैली में कुछ परिवर्तन करने पड़ते हैं जैसे

कोई भी एस्प्रिन की दवा नहीं खानी है और ना ही कोई ऐसा सप्लीमेंट लेना है जिससे रक्त पतला होता हो अगर आप कोई ऐसा सप्लीमेंट लेते हैं या कोई दवाई लेते हैं तो कम से कम लेजर ट्रीटमेंट कराने से 2 हफ्ते पहले उस दवाई का प्रयोग करना छोड़ दें।

अगर आप स्मोकिंग करते हैं या आप बहुत ज्यादा स्मोकिंग करते हैं तो आपको कम से कम लेजर ट्रीटमेंट कराने से 2 हफ्ते पहले से स्मोकिंग करने की आदत छोड़नी पड़ेगी।

इधर ट्रीटमेंट कराने से 2 हफ्ते पहले से हमें किसी भी प्रकार का स्किन केयर प्रोडक्ट नहीं यूज़ करने हैं जिनमें रेटिनोल जैसे कोई केमिकल हो।

और विशेष बात यह है कि अगर आप आपको लेजर ट्रीटमेंट कराना है तो आप किसी डॉक्टर से सलाह लें किसी अच्छे डॉक्टर से सलाह लिए बिना लेजर ट्रीटमेंट ना कराएं।

क्या लेजर ट्रीटमेंट त्वचा के लिए हानिकारक है - Is laser treatment is harmful for skin in Hindi

नहीं लेजर ट्रीटमेंट कराना बिल्कुल भी खतरनाक नहीं है बल्कि यह तो काफी सरल और आसान तरीका है जिसके द्वारा मुहांसों के निशानों को चेहरे से और शरीर से हटाया जा सकता है यह तरीका अन्य तरीकों के मुकाबले काफी सुविधाजनक और कम समय लेने वाला तरीका है यहां तक कि कुछ-कुछ लेजर ट्रीटमेंट 15 से 20 मिनट में संपूर्ण हो जाते हैं लेजर ट्रीटमेंट के कुछ हल्के-फुल्के दुष्प्रभाव भी हैं जैसे त्वचा का रंग लाल हो जाना परंतु यह 10 से 15 दिनों में अपने आप ठीक हो जाता है और अगर यह ठीक नहीं होता तो डॉक्टर से सलाह लेनी पड़ती है।

दूसरा दुष्प्रभाव है कि व्यक्ति को एलर्जी हो सकती है इसके लिए भी दवाइयों का इस्तेमाल करके इस दुष्प्रभाव को कम किया जा सकता है।और इसके साथ-साथ कई छोटे-मोटे आने दुष्प्रभाव भी हैं परंतु कोई ऐसा गंभीर दुष्प्रभाव नहीं है जिसके कारण आप कह सकें कि लेजर ट्रीटमेंट आपकी त्वचा के लिए खतरनाक है या इसके कोई गंभीर दुष्प्रभाव हैं।

लेजर ट्रीटमेंट कब करना चाहिए - When should I do laser treatment in Hindi

आपको इसकी जरूरत हो आम दवाइयां घरेलू ट्रीटमेंट द्वारा अगर पिंपल के निशानों का ट्रीटमेंट हो सकता है तो आपको लेजर ट्रीटमेंट कराने की कोई जरूरत नहीं है यह काफी महंगा होता है। 

अगर कभी आपको कोई मुहांसों होता है और हमेशा रह जाता है तो आपूको लेसर ट्रीटमेंट कराने की कोई जरूरत नहीं है हल्के फुल्के निशान के लिए लेजर ट्रीटमेंट करने की कोई जरूरत नहीं है जबकि अगर आपको कोई गंभीर निशान है या बड़े-बड़े दाग हैं या सोचा पर दबे दबे से पड़ गए हैं तो आपको लेजर ट्रीटमेंट जरूर कराना चाहिए परंतु ऐसा करने से पहले अपने डॉक्टर से सलाह लें और एक अच्छे डॉक्टर से सलाह लेकर ही लेजर ट्रीटमेंट कराना चाहिए अन्यथा उसके दुष्प्रभाव हो सकते हैं और आपकी जेब ढीली हो सकती है।

क्या लेजर ट्रीटमेंट मुँहासे के निशान के लिए अच्छा है - Is laser treatment good for acne scar in Hindi

हां मुहांसों के निशानों को हटाने के लिए लेजर ट्रीटमेंट काफी अच्छा ऑप्शन है आपको अगर काफी सारे मुहांसों के निशान हैं तो आपको भी लेजर ट्रीटमेंट का इस्तेमाल करना चाहिए

लेजर ट्रीटमेंट इस्तेमाल करने के कई फायदे हैं जैसे यह अच्छा और सुविधाजनक होता है अन्य ट्रीटमेंटों के मुकाबले यह काफी कम समय लेता है जैसे कुछ कुछ लेजर ट्रीटमेंट तो 10 से 15 मिनट में संपूर्ण हो जाते हैं हालांकि कुछ ट्रीटमेंटों में समय लगता है लेजर ट्रीटमेंट अलग-अलग प्रकार का होता है इसलिए अपनी मर्जी से कोई सा भी लेजर ट्रीटमेंट ना करवाएं लेजर ट्रीटमेंट करवाने से पहले हमेशा किसी अच्छे डॉक्टर से जैसे किसी त्वचा विशेषज्ञ से परामर्श लेना चाहिए और डॉक्टर से मिलकर यह जानना चाहिए कि क्या आपको लेजर ट्रीटमेंट कराने की आवश्यकता है।

अगर आवश्यकता है तो आप लेजर ट्रीटमेंट कराएं कोई दिक्कत नहीं है लेकिन अगर नहीं किसी छोटा ट्रीटमेंट या किसी अन्य दवाई से अगर आपका मुहांसों का निशान जा सकता है तो आप लेजर ट्रीटमेंट ना करें क्योंकि यह काफी महंगे होते हैं और इनके हल्के-फुल्के साइड इफेक्ट्स भी होते हैं।

क्या लेजर ट्रीटमेंट हार्मोनल मुँहासो के ट्रीटमेंट में मदद करता है - Does laser treatment help hormonal acne in Hindi

लेजर ट्रीटमेंट द्वारा त्वचा की ऊपरी सतह के ऊतकों और कोशिकाओं को हटाकर उनकी जगह नए और स्वस्थ कोशिकाओं को स्थापित किया जाता है लेजर ट्रीटमेंट द्वारा किसी भी प्रकार के दाग धब्बे मुंहासे और हार्मोन अल गड़बड़ियों द्वारा हुए मुहांसों के निशानों को ठीक किया जा सकता है परंतु ऐसा नहीं है कि अगर आप मुंहासे के निशानों का ट्रीटमेंट कराते हैं तो उसके बाद वे दोबारा आपको कभी नहीं होंगे ऐसा नहीं है

इसकी पूरी संभावना है हो सकता है कि आपको अगर ज्यादा समस्या है या कोई हार्मोन अल गड़बड़ी है जिसके कारण आपको मुंहासे दाग धब्बे ज्यादा हो रहे हैं और तो ऐसे में सबसे पहला काम आपको यह करना है कि किसी त्वचा विशेषज्ञ से मिले और उनसे पूरी राय में संपूर्ण जानकारी लें कि आप को किस प्रकार के मुंहासे के निशान हैं क्या यह किसी छोटी मोटी दवाई द्वारा समाप्त किए जा सकते हैं या फिर आपको कोई लेजर ट्रीटमेंट करवाना चाहिए अगर डॉक्टर कहते हैं कि आप दवाइयों द्वारा और लेजर ट्रीटमेंट द्वारा दोनों के द्वारा दाग धब्बों से छुटकारा पा सकते हैं तो आपको मैं प्रॉपर करूंगा कि आप पहले दवाइयों द्वारा ही इसका ट्रीटमेंट कराने की कोशिश करें लेजर ट्रीटमेंट को शुरुआत में ना करें अगर आपको जरूरत लगती है आपको रिटर्न कर आना चाहिए तो आप आराम से लेजर ट्रीटमेंट करा सकते हैं कोई दिक्कत नहीं होगी।

निष्कर्ष

हमने इस आर्टिकल में बताया है कि लेजर ट्रीटमेंट क्या है, लेजर ट्रीटमेंट क्यों किया जाता है लेजर ट्रीटमेंट करने के क्या-क्या फायदे हैं लेजर ट्रीटमेंट करने के क्या क्या नुकसान है और लेजर ट्रीटमेंट से जुड़े काफी सारे प्रश्नों के जवाब।

मैं आशा करता हूं कि हमारे द्वारा लिखा गया यह आर्टिकल आपको जरूर पसंद आया होगा अगर आपके कोई सुझाव या सवाल है तो आप हमें कमेंट बॉक्स में कमेंट करके बता सकते हैं।

प्रश्न और उत्तर

लेजर ट्रीटमेंट कब-कब कराना पड़ता है?

लेजर ट्रीटमेंट आपको तब कराना चाहिए जब आप कई प्रकार की दवाइयों का इस्तेमाल कर कर थक गए हो और आपके मुहासे के निशान हट नहीं रहे हो।

लेजर ट्रीटमेंट के दुष्प्रभाव क्या-क्या है?

लेजर ट्रीटमेंट के कई दुष्प्रभाव हैं जिनमें से मुख्य दुष्प्रभाव है सूजन ट्रीटमेंट के दौरान दर्द और त्वचा का लाल हो जाना जो कि बाद में लगभग 10 दिनों में ठीक हो जाता है।

मुंहासे के निशानों को पूरा हटाने के लिए कितने सत्र लेने पड़ते हैं?

मुंहासे के निशानों कुछ मामलों में पूर्ण रूप से हट जाते हैं लेकिन कुछ मामलों में यह इतने छोटे हो जाते हैं कि आसानी से दिखाई नहीं देते यह आपके ऊपर निर्भर करता है कि आप कितनी बार लेजर ट्रीटमेंट कराते हैं।



टिप्पणी पोस्ट करें

0टिप्पणियां