Height kaise badhaye - Height कैसे बढ़ाये

Height kaise badhaye - Height कैसे बढ़ाये


Height kaise badhaye व्यक्ति की height एक महत्वपूर्ण विषय है क्योंकि इससे व्यक्ति का व्यक्तित्व झलकता है और अक्सर लंबी height वाले लोग आकर्षण का केंद्र होते हैं जबकि छोटी height वाले लोगों को कठिनाइयों का सामना करना पड़ता है। जिससे उनका आत्मविश्वास भी कम हो जाता है और व्यक्ति को जीवन भर यह बात खटकती रहती है। 

इस आर्टिकल में हमने यह बताया है कि height kaise badhaye? तो आइए देखते हैं Height kaise badhaye इस सवाल का जवाब। 

                       Table Of Contents

Height kaise badhaye in hindi - Height बढ़ाने के तरीके 

अच्छी नींद [good sleep]

जैसा हम सभी जानते हैं हमारे शरीर का सबसे ज्यादा विकास तब होता है जब हम सो रहे होते हैं सोते समय हमारे cells रीजेनरेट होते हैं। अच्छी नींद और अच्छा आराम शारीरिक विकास और शरीर की height को बढ़ने में मदद करते हैं। 

ऐसा माना जाता है कि height बढ़ाने वाले हार्मोन (HGH-height growth hormone ) गहरी नींद के दौरान शरीर में सबसे ज्यादा मात्रा में उत्पन्न होते हैं। 

बढ़ती उम्र के बच्चों को अपनी height बढ़ाने के लिए कम से कम 11 घंटे की, और साधारण व्यक्ति को कम से कम 8 घंटे की नींद लेनी चाहिए। 

अच्छी नींद कैसे ले, अच्छी नींद लेने के लिए सुझाव

  • सोने के लिए उचित माहौल होना आवश्यक है, जैसे माहौल शांत होना चाहिए, साथ ही धीमी लाइट होनी चाहिए।
  • सोने से पहले हल्के गुनगुने पानी से स्नान करें, इससे शरीर के तापमान में अचानक गिरावट आती है और अध्ययन से पता चला है कि शरीर के तापमान में अचानक गिरावट आने से नींद और आलस आता है। 
  • सोने से पहले थोडे गुनगुना पानी का सेवन करें इससे आप का इम्यून सिस्टम सही रहेगा और आपको अच्छी नींद आएगी
  • सोने से पहले मोबाइल फोन का इस्तेमाल बिल्कुल ना करें मोबाइल फोन का इस्तेमाल करने से सोने में समस्या आती है। 

संतुलित भोजन करें  [balanced diet]

पोषण height बढ़ने के लिए बहुत आवश्यक है उचित पोषण पाने के लिए हर बच्चे को संतुलित आहार खाना चाहिए। उचित पोषण height बढ़ाने में मदद करता है और कुपोषण जैसी बीमारियों का खतरा कम करता है। 

शारीरिक विकास के लिए संतुलित आहार बहुत आवश्यक होता है क्योंकि संतुलित आहार में सभी प्रकार के पोषक तत्व vitamin, protein और minerals होते हैं जो height को बढ़ाने में मदद करते हैं। 

पाचन तंत्र ( Immune system) को ठीक रखें

एक अच्छा पाचन तंत्र height को बढ़ाने के लिए काफी महत्वपूर्ण होता है क्योंकि अगर पाचन तंत्र ठीक नहीं होगा तो हमारा शरीर पौष्टिक आहार में से पोषण नहीं ले पाएगा और फिर पोस्टिक आहार खाने का कोई लाभ नहीं होगा।

खराब पाचन तंत्र से शरीर का विकास करने वाले हार्मोन में गड़बड़ी आ जाती है। HGH हार्मोन का उत्पादन कम हो जाता है पाचन तंत्र खराब होने से शारीरिक और मानसिक विकास होने में बाधा उत्पन्न होती है। 

शरीर की सही मुद्रा बनाए रखें (make a good body posture)

बचपन से ही बच्चों के बैठने और खड़े होने के तरीकों पर ध्यान देना चाहिए क्योंकि सही posture में ना बैठने से शरीर के विकास पर नकारात्मक प्रभाव पड़ता है और शारीरिक विकार उत्पन्न हो सकता है। 

गलत तरीके से बैठने से या खड़े होने से शरीर की मुद्रा खराब हो जाती है सही मुद्रा में नहीं बैठने से height बढ़ने पर काफी नकारात्मक प्रभाव पड़ता है। अगर कोई भी झुक कर बैठता है तो उसकी रीड की हड्डी पर जोर पड़ता है जिससे की height बढ़ने में समस्या आ सकती है इसलिए सही मुद्रा में बैठना चाहिए।

सही मुद्रा बनाए रखने के लिए कुछ सुझाव

  • हमेशा पीठ सीधी करके चलना चाहिए। 
  • कभी भी नीचे देख कर या झुक कर नहीं चलना चाहिए। 
  • काम करते वक्त पीठ को झुकने ना दें।
  • कुर्सी पर सीधे होकर बैठे। 
  • जितना हो सके अपनी रीड की हड्डी को सीधा रखने की कोशिश करे। 

जंक फूड से परहेज करें (avoid junk food)

जंक फूड और चीनी से भरे हुए खाद्य पदार्थों का सेवन बच्चों और युवाओं में काफी प्रचलित है। इस प्रकार के खाद्य पदार्थों का सेवन करने से height बढ़ने की प्रक्रिया पर बुरा प्रभाव पड़ता है। 

क्योंकि जंक फूड और चीनी से भरे हुए खाद्य पदार्थ height बढ़ाने वाले growth हार्मोन HGH पर नकारात्मक असर डालते हैं और HGH के उत्पादन को कम करते हैं।

Height बढ़ाने के लिए किस प्रकार का भोजन खाएं

Height बढ़ाने के लिए भोजन

हमें ऐसा भोजन खाना चाहिए जिसमें प्रचुर मात्रा में vitamin और protein हो क्योंकि vitamin और protein height बढ़ाने वाले हार्मोन HGH और शरीर का विकास करने वाले हार्मोन दोनों के उत्पादन को बढ़ाने में सहायता करता है। vitamin D और protein से हड्डियां मजबूत होती हैं और शरीर का विकास सही ढंग से हो पाता है।

पनीर, हरी पत्तेदार सब्जियां, फलियां, दूध, टोफू, मांस, मछली, अंडे आदि इन सभी खाद्य सामग्रियों को अपने आहार में शामिल करना चाहिए क्योंकि इनमें उचित मात्रा में protein और vitamin होते हैं।

शरीर के विकास के लिए Zinc का सेवन बहुत महत्वपूर्ण होता है इसलिए सरकारी स्कूलों में भी अब सरकार द्वारा Zinc की गोलियां मुफ्त बांटी जा रही है इससे हड्डियों का विकास होता है और हड्डियां मजबूत होती हैं जिससे height बढ़़ती है। सभी प्रकार के डेयरी प्रोडक्ट्स जैसे दूध, दही, मक्खन और हरी पत्तेदार सब्जियों में भी Zinc भरपूर मात्रा में उपलब्ध होता है। 

शरीर के विकास के लिए अन्य कई महत्वपूर्ण तत्व भी होते हैं जैसे magnesium, phosphorus, carbohydrates इत्यादि, इनका सेवन, शरीर के विकास के लिए महत्वपूर्ण होता है इसलिए इस प्रकार का भोजन खाएं जिसमें ये सभी तत्व उचित मात्रा में उपलब्ध हो। 

Height बढ़ाने के लिए इन चीजों से दूर रहें

Height बढ़ाने के लिए इन चीजों से दूर रहें

Height बढ़ाने के लिए जरूरी है कि आप नीचे दी गये पदार्थों से दूर रहें

शराब (Alcohol) 

कम उम्र से ही शराब का सेवन करना, स्वास्थ्य के लिए बहुत ज्यादा हानिकारक हो सकता है शराब शरीर के विकास में बाधा उत्पन्न कर सकती है। साथ ही शराब की वजह से कई गंभीर बीमारियां भी हो सकती हैं और कुपोषण भी हो सकता है।

कैफीन (caffeine) का सेवन

कैफीन का सेवन करना वैसे तो दिमाग और शरीर दोनों में चुस्ती फुर्ती लाने के लिए उचित होता है परंतु इससे नींद आने की क्षमता पर असर पड़ता है और लंबाई बढ़ने के लिए बढ़ती उम्र के बच्चों को कम से कम 11 घंटे की नींद लेनी चाहिए। लेकिन कैफीन का सेवन करने से नींद में बाधा उत्पन्न होती है जिसके कारण शरीर की height बढ़ने में समस्या आ सकती है। 

स्टेरॉयड (steroids ) 

बॉडी बनाने के लिए आजकल युवा स्टेरॉयड का इस्तेमाल करते हैं जिनसे युवाओं की हड्डियों पर नकारात्मक प्रभाव पड़ता है और उनके विकास में बाधा उत्पन्न होती है साथ ही यह स्वास्थ्य के लिए बहुत ज्यादा हानिकारक होता है।

इनहेलर ( inhaler) 

एक रिसर्च में पता चला है कि अस्थमा से प्रभावित बच्चे जो इनहेलर का इस्तेमाल करते हैं और बच्चों के मुकाबले उनकी height 1 या आधी इंच कम होती है क्योंकि जो इनहेलर यूज करते हैं इनहेलर मैं बहुत कम मात्रा में स्टेरॉयड होता है जिसका नाम budesonide है। 

Height बढ़ाने के लिए एक्सरसाइज in hindi (exercises) 

Height बढ़ाने के लिए एक्सरसाइज in hindi (exercises)

 भागना (Jogging) 

सुबह सुबह उठकर जोगिंग करना हमारी सेहत के लिए तो बहुत अच्छा होता ही है साथ ही height बढ़ाने के लिए बहुत कारगर एक्सरसाइज माना जाता है।

जोगिंग करने से हमारे पैरों की हड्डियों का विकास होने में मदद मिलती है और पैरों की मांसपेशियां मजबूत होती  हैं। अगर आप रोज  30 से 40 मिनट तक जोगिंग करते हैं तो इससे आपकी height बहुत जल्दी बढ़ने में मदद मिलती है।

साइकिल चलाना (cycling)

अगर आप नौजवान हैं तो यही उम्र है एक्सरसाइज करने की। क्योंकि किशोरावस्था ही ऐसा समय है जिसमें आपकी लंबाई सबसे अधिक बढ़ सकती हैं और अगर आप height बढ़ाना चाहते हो।

तो साइकिलिंग एक बहुत अच्छा विकल्प हो सकता है क्योंकि साइकिलिंग से height को बढ़ने में मदद मिलती है और लोग साइकिल चलाने को इंजॉय भी करते है 

साइकिल चलाना एक बहुत ही अच्छा विकल्प है जिससे बच्चे और नौजवान अपनी पैरों की एक्सरसाइज कर सकते हैं और अपनी height में 2 से 4 इंच तक बढ़ोतरी कर सकते हैं।

तैरना (swimming)

तैराकी करते समय हमारा शरीर पूरी तरीके से active हो जाता है और हम अपने पूरे शरीर के हर एक अंग का प्रयोग करते हैं साथ ही हर एक अंग पर जोर पड़ता है। 

जिससे कि मांसपेशियों का विकास होता है और उनमें ताकत आती है साथ ही स्विमिंग करना height बढ़ान के लिए भी बहुत अच्छा माना जाता है। 

अल्टरनेट लेग कीक (Alternate leg kick)

अल्टरनेट लगी किक एक्सरसाइज को करने से हमारे शरीर की बड़ी-बड़ी मांसपेशियों पर खिंचाव पड़ता है और उनका विकास होने में मदद मिलती है और रीड की हड्डी पर जोर पड़ता है।

Alternate leg kick कैसे करें

  • सीधे खड़े हो जाइए ।
  • फिर अपनी एक टांग पर खड़े होकर अपनी दूसरी टांग को ऊपर उठाइए। 
  • अपनी दूसरी टांग उठा कर हवा में किक मारे।
यह एक्सरसाइज स्वास्थ्य के लिए बहुत लाभदायक होती है 5 से 10 मिनट लगातार इस एक्सरसाइज को रोज अभ्यास में लाने से शरीर की हाइट बढ़ने में मदद मिलती है।

जंपिंग स्क्वाड (jumping squard)

जंपिंग स्क्वाड एक्सरसाइज को करने से हमारे शरीर की रीड की हड्डी और पैरों की मांसपेशियों पर काफी खिंचाव और दबाव पड़ता है जिससे  शरीर की लंबाई बढ़ने में सहायता मिलती हैै। 

जंपिंग स्क्वाड कैसे करें

  • जंपिंग स्क्वाड एक्सरसाइज को करने के लिए सबसे पहले
  • सीधे खड़े हो जाएं।
  • अपने घुटनों को मोड़ते हुए पीछे की तरफ झुकाये अपने हाथों को जोड़ें जिस तरीके से ऊपर चित्र में दिखाया गया है।
  • और फिर उछले।
5 से 10 मिनट लगातार इस एक्सरसाइज का अभ्यास करने से हाइट बढ़ाने में मदद मिलती है।

लेग्स अप एक्सरसाइज (leg up exercise)

लेग्स अप एक्सरसाइज में आपको अपने टांगो पर जोर डालना होता है जिससे की मांसपेशियों में खिंचाव आता और हड्डी पर जोर पड़ता है जिससे लंबाई को बढ़ाने में मदद मिलती है।

लेग आप एक्सरसाइज कैसे करें

लेग्स अप एक्सरसाइज को करने के लिए सबसे पहले
  • जमीन पर पीठ के बल लेट जाएं।
  • दोनों हाथ जमीन पर फैलाएं। 
  • फिर अपने दोनों टांगों को एक साथ जोड़ कर उठाएं और कुछ देर तक इसी आसन में रहने का प्रयास करें। 
इस‌ एक्सरसाइज को करने का एक फायदा यह भी है कि इससे शरीर में मजबूती आती है।

साइड स्ट्रेच (side stretch)

साइड स्ट्रेच एक्सरसाइज को करने से पैरों की मांसपेशियां और रीड की हड्डी पर जोर पड़ता है जिससे शरीर में मजबूती आती है और height बढ़ानें में मदद मिलती है।

Side stretch कैसे करें

साइड स्ट्रेच एक्सरसाइज को करने के लिए
  • सीधे खड़े हो जाएं। 
  • अपने दोनों हाथों को कमर पर रखें। 
  • फिर शरीर की बाई तरफ झुके जितना झुक सकते हैं। 
  • और फिर शरीर की दाईं तरफ झुके।
इस एक्सरसाइज को दिन में 10 से 15 मिनट करने से पूरी बॉडी को ऊर्जा मिलती है और height बढ़ाने में मदद मिलती है

लटकना (hanging exercise)

लटकना height बढ़ाने के लिए सबसे अच्छा और असरदार तरीका माना जाता है क्योंकि लटकने के लिए ज्यादा बल नहीं लगता और ना ही किसी खास उपकरण की आवश्यकता होती है।

लटकने के लिए आप किसी भी पुलिंग बार का इस्तेमाल कर सकते हैं नहीं तो किसी पेड़ की शाखा का उपयोग भी कर सकते हैं लेकिन पेड़ की शाखा पर लटकने से पहले जांच लें की शाखा मजबूत है या नहीं।

लटकने से हमारे शरीर का सारा भार हमारे शरीर की मांसपेशियों और रीड की हड्डी पर आ जाता है जिससे मांसपेशियों में बहुत जबरदस्त खिंचाव पैदा होता है ।

जो height बढ़ान में मदद करता है।साथ ही लटकने से शरीर की मांसपेशियां फैल जाती हैं जिससे कि शरीर में खून का प्रभाव बेहतर होता है और height बढ़ाने में मदद मिलती है। 

वॉल स्ट्रेचिंग (wall stretching)

वॉल स्ट्रेच एक्सरसाइज मे हमें अपने शरीर के पूरे बल का इस्तेमाल करते हुए दीवार पर धक्का देना होता है जिससे कि हमारे शरीर की मांसपेशियों पर जोर पड़ता है। 

Wall stretching कैसे करें। 

  • दीवार के पास खड़े हो जाएं
  • अपने दोनों हाथों को दीवार पर टिकाए
  • एक पैर को आगे की तरफ और एक पैर को पीछे की तरफ फर्श पर टिकाए
  • और पूरे जोर से दीवार पर लगातार धक्का दे
  • इसे पूरी बॉडी में खिंचाव पड़ता है और height बढ़ने में मदद मिलती है 

रस्सी कूदना (jumping rope)

स्सी कूदना एक ऐसा प्रचलित खेल है जो हर बच्चे ने कभी ना कभी अपने जीवन में जरूर खेला होगा।
रस्सी कूदने से हमारे शरीर में एक्टिवनेस बढ़ती है और जब हम रस्सी कूदते हैं तब हमारी बॉडी कुछ देर के लिए हवा में होती है और कुछ देर के लिए जमीन पर होती है इससे हमारे शरीर की सभी छोटी-बड़ी मांसपेशियों और हड्डियों पर खिंचाव पड़ता है

Height बढ़ाने के लिए योगा in hindi

height बढ़ाने के लिए योगा

ताड़ासन

ताड़ासन height बढ़ाने के लिए काफी प्रचलित आसन है ताड़ासन काफी असरदार आसन है ताड़ासन करने से हमारे शरीर के हर एक अंग पर दबाव पड़ता है जिससे ग्रोथ हार्मोन की मात्रा बढ़ती है।

अगर छोटे बच्चे इस योगा  को बचपन से ही करना चालू कर दें तो यह आसन उनकी height बढ़ाने में काफी मदद करता है

ताड़ासन कैसे करें। 

  1. इस आसन को करने के लिए सीधे खड़े हो जाएं
  2.  फिर अपने दोनों हाथों को जोड़कर सर के ऊपर ले जाएं
  3.  ऊपर की तरफ खींचे जितना कि खींच सकते हैं खींचिए अपनी रीड की हड्डी पर जोर पड़ने दें। 

सुखासन

एक ऐसा आसन है जिसने आपको ध्यान मुद्रा में बैठना होता है सुखासन करने से हमारे शरीर के बैठने के तरीके में बदलाव आता है साथ ही इससे हमारा body posture भी ठीक होता है और जैसा कि आप जानते हैं। सर से लेकर पांव तक शरीर के हर हिस्से पर प्रेशर पड़ता है जिससे शरीर में हाइट बढ़ाने वाले हार्मोन का स्तर बढ़ता है और हाइट बढ़ने में मदद मिलती है। 

अच्छे body posture से लंबाई बढ़ने में मदद मिलती है साथ ही सुखासन करने से दिमाग भी शांत रहता है कोई तनाव नहीं होता है। और तनावमुक्त शरीर ही अच्छे तरीके से विकसित हो पाता है।

सूर्य नमस्कार

सूर्य नमस्कार एक ऐसा आसन है जिसमें हम सूर्य को प्रणाम करते हैं लेकिन सिर्फ हाथ जोड़कर सूर्य को प्रणाम करना सूर्य नमस्कार नहीं होता इसमें हमें एक संपूर्ण दंडवत करना होता है। और सूर्य नमस्कार में कुल 12 स्टेप होते हैं जिन्हें एक साथ प्रदर्शित किया जाता है। 

जब हम सूरज के सामने सूर्य नमस्कार करते हैं तब सूरज की किरने हमारे शरीर पर पड़ती हैं जिससे कि हमारे शरीर में vitamin D का स्तर बढ़ता है। 

जिससे  हड्डियां मजबूत होती हैं। और रीड की हड्डी पर खिंचाव आता है जिससे लंबाई बढ़ने में मदद मिलती है।। 

सूर्य नमस्कार के कई अन्य फायदे भी हैं जैसे कि सूर्य नमस्कार को करने से डायबिटीज, डिप्रैशन, हार्ट अटैक और छोटी मोटी बीमारियां होने का खतरा कम हो जाता है‌‌। 

चक्रासन

चक्रासन को ऊर्ध्वाधर धनुरासन भी कहते हैं यह हाइट बढ़ाने के लिए काफी ज्यादा कारगर होता है इस आसन में हम पीठ के बल जमीन पर लेट जाते हैं और फिर अपने पैरों और हाथों को जमीन पर टिका कर अपने पेट को ऊपर की तरफ उठाते हैं और अपने शरीर को चक्र की तरह बना लेते हैं।

इस योगासन से हमारे शरीर की हर मांसपेशी और हड्डी पर खिंचाव पड़ता है और शरीर में हाइट बढ़ाने वाले हार्मोन का स्तर बढ़ता है शरीर के विकास और लंबाई को बढ़ने में सहायता मिलती है चक्रासन शरीर में फ्लैक्सिबिलिटी को बढ़ाता है। 

ट्रायंगल पोज

ट्रायंगल पोज करने से हमारे शरीर के मांसपेशियों और हड्डियों पर तनाव और खिंचाव पड़ता है जिससे कि उनमें मजबूती आती है और शरीर में हाइट बढ़ाने वाले हार्मोन का स्तर बढ़ता है साथ ही पाचन तंत्र भी मजबूत होता है। 

साथ ही ट्रायंगल पोज योगा करने से पीठ दर्द चिंता तनाव आदि जैसी समस्याएं नहीं होती इसको करने के लिए अपने दोनों टांगों को फैला लें और एक हाथ से अपनी एक टांग को पकड़े और दूसरे हाथ से आकाश की तरफ देखिए और अपना चेहरा भी आकाश की तरफ रखें और पूरी बॉडी पर खिंचाव पड़ने दें इससे लंबाई बढ़ने में मदद मिलती है

कोबरा पोज

कोबरा पोज लंबाई बढ़ाने के लिए एक बहुत ही असरदार योगा है कोबरा पोज करने से हमारे शरीर और मांसपेशियों पर खिंचाव पड़ता है जिससे की हाइट बढ़ने में मदद मिलती है। 

इस योगा को करने के लिए जमीन पर पेट के बल लेट जाएं फिर अपने हाथों को अपने कंधों के पास लाकर अपनी गर्दन को ऊपर आकाश की तरफ उठाएं जितना उठा सकते हैं उठाएं इससे गर्दन के साथ-साथ पूरी रीड की हड्डी और हर छोटी-बड़ी मांसपेशी पर जोर पड़ता है।

स्टैंडिंग एंड सीटेड टो टच

इस एक्सरसाइज को करना बहुत ही आसान है इस एक्सरसाइज को करने के लिए पहले सीधे खड़े हो जाएं और अपने दोनों हाथों को ऊपर करें उसके बाद धीरे-धीरे अपने दोनों हाथों को नीचे लाएं कमर को झुकाए अपने दोनों हाथों से पैरों के अंगूठे को छूने की कोशिश करें इससे पूरी बॉडी में खिंचाव पड़ेगा और लचीलापन बढ़ेगा साथ ही एचजीएच ग्रोथ हॉरमन  के स्तर में बढ़ोतरी होती है और लंबाई भी बढ़ेगी।

बच्चों की height कैसे बढ़ाए in hindi

व्यक्ति के व्यक्तित्व और उसकी पर्सनैलिटी को निखारने के लिए। हाईट महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है अच्छी हाइट वाले बच्चे हमेशा सकारात्मक आत्मविश्वास महसूस करते हैं जबकि कम हाइट वाले बच्चे को कई बार  शर्मिंदगी महसूस करनी पड़ती है। 

अक्सर देखा गया है कि छोटी हाइट वाले बच्चों का क्लास में अन्य बच्चों द्वारा मजाक बनाया जाता है और उन्हें हाइट को लेकर चढ़ाया भी जाता है जिससे कि छोटी हाइट वाले बच्चों का आत्म विश्वास टूट जाता है

उनमें आत्मविश्वास की कमी हो जाती है। इस आत्मविश्वास की कमी से उस बच्चे का पूरा जीवन प्रभावित हो सकता है और उस बच्चे को शारीरिक व मानसिक रूप से भी समस्या हो सकती है।

लड़कों की लंबाई 12 से 15 वर्ष की उम्र तक बहुत तेजी से बढ़ती है उसके बाद धीरे धीरे बढ़ती है और लगभग 18 वर्ष की आयु तक बढ़ना बंद कर देती है। 

इसलिए 12 से लेकर 15 वर्ष की आयु में लड़कों की हाइट पर ध्यान देना चाहिए। क्योंकि अगर इस समय उनकी हाइट पर ध्यान दिया जाऐ। तो उन्हें किसी प्रकार की छोटी हाइट की समस्या का सामना नहीं करना पड़ेगा। लड़कियों की लंबाई 10 से 13 वर्ष की आयु तक बढ़ती है और उसके बाद  height 1 या 1.5 इंच ही बढ़ती है। 

बच्चों की लंबाई उनके माता-पिता के जींस पर निर्भर करती है मतलब यदि माता-पिता में से किसी की हाइट‌ छोटी है तो स्वाभाविक रूप से बच्चे की हाइट भी छोटी हो सकती है। यहां तक कि दादा दादी की हाइट का भी प्रभाव उनके पोते पोतियो की हाइट पर पड़ सकता है। 

अगर माता-पिता की हाइट छोटी है तो बच्चों की हाइट छोटी होगी इसकी संभावना ज्यादा होती है लेकिन अगर बचपन से ही उनकी हाइट को लेकर ध्यान दिया जाए तो बच्चों की हाइट बढ़ सकती है

बच्चों के खेलने कूदने से या लटकने से उनकी हाइट बढ़ती है ऐसे क्रियाकलापों को करने के लिए बच्चों को प्रोत्साहित करना चाहिए

बच्चों की height बढ़ाने के लिए कुछ सुझाव

  • बढ़ती उम्र के बच्चों के लिए खानपान का विशेष ध्यान रखना चाहिए। बच्चों के आहार में किसी भी तरह की कोई कमी नहीं होनी चाहिए बच्चा जो आहार खाता है उसमें सभी प्रकार के विटामिन, प्रोटीन और सभी जरूरी पोषक तत्व होने चाहिए।
  • बच्चों को बाहर का तला हुआ भोजन अथवा बाहर का भोजन खाने से रोकना चाहिए उन्हें हमेशा अच्छा और स्वस्थ खाना खाने के लिए प्रेरित करना चाहिए। 
  • बच्चों को पढ़ाई के साथ-साथ खेलकूद के लिए प्रेरित करना चाहिए साथ ही माता-पिता की यह जिम्मेदारी बनती है कि वह अपने बच्चों के शारीरिक विकास पर ध्यान दें। 
  • बच्चों को कॉलेज व स्कूल में होने वाले हर खेल में भागीदारी लेने के लिए प्रेरित करना चाहिए इससे हमारे शरीर को बढ़ने में मदद मिलती है।
  • आजकल माता-पिता अपने बच्चों की पढ़ाई के चलते उन पर बहुत ज्यादा दबाव बनाते हैं जिसके चलते बच्चों को मानसिक स्ट्रेस होता है जो शारीरिक विकास में बाधा उत्पन्न करता है इसलिए बच्चों पर पढ़ाई के लिए कभी भी ज्यादा दबाव नहीं डालना चाहिए। हमें हमेशा उन्हें प्रोत्साहित करना चाहिए अगर बच्चा खुश और प्रोत्साहित रहेगा तो वह अपने आप ही पढ़ाई पर ध्यान देगा और उसका शारीरिक विकास होगा। 
  • बच्चों को खेल खेलने और एक्सरसाइज करने के लिए प्रोत्साहित करना चाहिए। 
  • छोटे बच्चों को बचपन से ही अपने स्वास्थ्य का ध्यान कैसे रखना है यह बात सिखाई जानी चाहिए। 
  • हाइट बढ़ाने का तरीका यही है कि मां-बाप को अपने बच्चों के स्वास्थ्य पर ध्यान देना चाहिए।

height बढ़ाने के लिए treatment

वैसे तो आजकल बाजार में कई तरह के उत्पाद उपलब्ध हैं जो यह दावा करते हैं कि उन्हें खाने से लंबाई बढ़ती है हालांकि कुछ उत्पाद सच में कुछ हद तक असरदार होते हैं और ज्यादातर सिर्फ झूठे दावे करते हैं। 
  

ग्रोथ हार्मोन इंजेक्शन ट्रीटमेंट

हमारे शरीर में हाइट ना बढ़ने का एक कारण होता है कि हमारे शरीर में ग्रोथ हार्मोन एचजीएच की कमी हो जाती है जिससे कि हमारी हाइट बढ़ नहीं पाती है।

ग्रोथ हार्मोन इंजेक्शन ट्रीटमेंट मे डॉक्टर्स द्वारा हमारे शरीर में HGH हार्मोन के इंजेक्शन को इंजेक्ट किया जाता है जिससे कि यह हमारे शरीर की हाइट बढ़ाने में मदद करते हैं। 

वैसे तो यह ट्रीटमेंट 100% सही है लेकिन इसका एक नकारात्मक पहलू यह है कि यह काफी खर्चीला है इस ट्रीटमेंट को कराने के लिए आपके लाखों रुपए खर्च हो सकते हैं।

इस ट्रीटमेंट के कोई ज्यादा गंभीर साइड इफेक्ट्स नहीं है लेकिन कुछ मामूली साइड इफेक्ट हैं जैसे
  • शरीर और के जोड़ों में दर्द
  • शरीर में दर्द
  • हाथ पैरों में सूजन आदि। 
इस ट्रीटमेंट का कोई बहुत बड़ा गंभीर साइड इफेक्ट नहीं है लेकिन यह ट्रीटमेंट बहुत ज्यादा महंगा है इसमें आपकी 1 इंच हाइट बढ़ाने के लिए आपको लाखों रुपए खर्च करने पड़ सकते हैं

height कैसे रुक जाती है in hindi

Height रुकने के कई कारण हो सकते हैं आमतौर पर बच्चों में 12 वर्ष से लेकर 15 वर्ष तक हाइट तेजी से बढ़ती है।

और जैसे ही 15 वर्ष होते हैं हाइट बढ़ना रुक जाती है बच्चों को लगता है कि मेरी हाइट तो बढ़ ही नहीं रही कोई दिक्कत है लेकिन ऐसा नहीं है आपकी हाइट जितनी बढ़नी थी उतनी बढ़ चुकी है। 

दूसरा कारण है। उचित मात्रा में पोषण ना मिल पाना।  पोषण एक महत्वपूर्ण चीज है जो शरीर के विकास के लिए जरूरी है लोग सोचते हैं कि बच्चे जो गरीब हैं वही कुपोषण का शिकार होते हैं लेकिन ऐसा नहीं है। 

अमीर बच्चे भी कुपोषण का शिकार हो सकते हैं जैसे कि कुछ बच्चे जो घर का खाना खाते ही नहीं है मैगी पास्ता कोल्ड ड्रिंक इत्यादि हमेशा खाते रहते हैं इससे उनके स्वास्थ्य पर बुरा प्रभाव पड़ता है। 

निष्कर्ष

हम आशा करते हैं कि आपको ऊपर दिए गए सभी पॉइंट अच्छे से समझ में आ गए होंगे। और आपको Height kaise badhaye इस प्रश्न का उत्तर मिल गया होगा। अगर आपको ऊपर दिया गया कोई भी पॉइंट समझ नहीं आया हो या कोई भी शंका हो तो हमें कमेंट कर कर पूछ सकते हैं

प्रश्न और उत्तर

Height बढ़ाने के लिए diet?

हाइट बढ़ाने के लिए प्रोटीन और विटामिन से भरपूर खाना खाना चाहिए जिसमें उचित मात्रा में अन्य आवश्यक पोषक तत्व हो जो लंबाई बढ़ाने में सहायता करते हैं

Height कैसे रोकें?

हाइट को रोकना और बढ़ाना आसान नहीं होता यह सब जींस पर डिपेंड करता है लेकिन कुछ तरीके हैं जिनसे हम हाइट को रोक सकते हैं

जैसे कि अगर किसी व्यक्ति की हाइट जरूरत से ज्यादा लंबी हो रही है तो उसे वजन उठाना चाहिए वजन उठाने से हमारी रीढ़ की हड्डी पर जोर पड़ता है और हमारी हाइट को बढ़ने से रोकने में मदद मिलती है

क्या हस्तमैथुन करने से height पर कोई फर्क पड़ता है?

नहीं ऐसा बिल्कुल नहीं है हस्तमैथुन करने से लंबाई का कोई कनेक्शन ही नहीं है लेकिन हां कुछ लोग ऐसा समझते हैं कि हस्तमैथुन करने से लंबाई पर फर्क पड़ता है यह सिर्फ एक भ्रम है

संदर्भ (References):

Impact exercise increases BMC during growth: An 8-Year longitudinal study. (n.d.). PubMed Central (PMC). https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC2679385

Improvement in adult height after growth hormone treatment in adolescents with short stature born small for gestational age: Results of a randomized controlled study. (2003, April 1). OUP Academic. https://academic.oup.com/jcem/article/88/4/1587/2845256

Effect of regular yogic training on growth hormone and Dehydroepiandrosterone sulfate as an endocrine marker of aging. (n.d.). PubMed Central (PMC). https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC4034508/

Adult height after long term treatment with recombinant growth hormone for idiopathic isolated growth hormone deficiency: Observational follow up study of the French population based registry. (13). PubMed Central (PMC). https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC117125/

Adult height, nutrition, and population health. (n.d.). PubMed Central (PMC). https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC4892290/

टिप्पणी पोस्ट करें

0टिप्पणियां